गुरूवार , जुलाई 19 2018

सांसद ने आरोपों का खंडन करते हुए कहा ‘पब्लिसिटी के लिए ये सब कर रहे डॉ. कफील’

रिपोर्ट- पंकज श्रीवास्तव

गोरखपुर। विगत दिनों डॉक्टर कफील के भाई काशिफ पर अज्ञात हमलावरों द्वारा किये गये जानलेवा हमले के बाद आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। बतादें की 10 जून को शाम जेपी हॉस्पिटल के पास गली में काशिफ को तीन गोली मारी गई।

सांसद कमलेश पासवान

काशिफ के बड़े भाई ने डीजीपी को भेजे शिकायती पत्र में गोरखपुर पुलिस के दो वरिष्ठ अधिकारियों पर भाई के इलाज में बाधा डालने का आरोप लगाया। इसके बाद खुद डॉ0 कफ़ील ने मोर्चा सम्भालते हुए प्रेस वार्ता के माध्यम से कहा कि बांसगांव सांसद कमलेश पासवान व सतीश नागलिया ने नोमान और निकहत आरा के साथ मिलकर इस षड्यंत्र को अंजाम दिया है।

पूरे मामले पर अपनी सफाई देने के लिए बांसगांव सांसद कमलेश पासवान ने आज आनन फानन में प्रेसवार्ता करते हुये डॉ0 कफील के आरोप का खंडन किया और कहा कि काशिफ और डॉ0 कफ़ील दोनों विवादित रहे हैं। मेडिकल कालेज गैस कांड के अभियुक्त रहे डॉ0 कफील की जेल से छूटने के बाद मनोदशा ठीक नहीं इसलिए वह पब्लिकसिटी के लिए मुझपर आरोप लगा रहे हैं।

यह भी पढ़े: राजनीति का पहला ‘चाणक्य’ जिसे भाजपा का ‘लक्ष्मण’ कहा जाता था!

उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में काशिफ ने दर्जनों जमीनों पर कब्ज़ा किया है.उन्होंने  कहा कि खुद डॉ0 कफील खान पर फ़र्ज़ी डिग्री और रेप समेत कई मामले लंबित हैं। सांसद कमलेश पासवान ने पुलिस प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि जल्द इस घटना का खुलासा किया जाए ताकि वह इस सम्बंध में मानहानि का केस कर सकें।

=>
LIVE TV