Sunday , October 22 2017

माइग्रेन के दर्द में दवाइयां हो गई हैं नाकाम, तो ये देशी नुस्खे करेंगे काम

माइग्रेन के दर्दआज हम बात करेंगे एक बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम की जिसको कहते हैं सिरदर्द. नार्मल तौर पर हर व्यक्ति को कभी न कभी किसी न किसी तरह से सिरदर्द महसूस जरुर होता है. सरदर्द के बहुत कारण हो सकते हैं लेकिन मेन डायग्नोसिस क्लस्टर सरदर्द या माइग्रेन होता है.

आज हम बात करेंगे माइग्रेन के बारे में. माइग्रेन को लोग आधे सर के दर्द से जानते हैं. यह ब्लड वेसल के बढ़ जाने पर होने वाले बदलाव के कारण होता है, जो अलग-अलग लोगों में अलग-अलग कारणों से हो सकता है. माइग्रेन कभी-कभी कुछ घंटों से लेकर दो या तीन दिन तक रह सकता है.

– माइग्रेन का दर्द जेनेटिक कारण से माता-पिता से बच्चे को ट्रान्सफर हो सकता है.

–  माइग्रेन महिलाओं में अधिकतर पाया जाता है.

–  देखा जाए तो यह समस्या 40 साल से कम उम्र के लोगों में ज्यादा होती है.

आखिर क्या है माइग्रेन के ट्रिगर्स और कैसे समझें इन्हें:

माइग्रेन के उपचार से पहले इसके लक्षण को पहचानना बहुत जरुरी है। इनको पहचानकर माइग्रेन का उपचार आसानी से किया जा सकता है।

यह ट्रिगर्स है-

– बहुत अधिक तनाव होने से सिरदर्द.

– धूम्रपान और शराब की वजह से होने वाला सिरदर्द।

– देर तक भूखे रहने से सिरदर्द

– चॉकलेट और नट्स के सेवन से होने वाला सिरदर्द ।

– विशेष प्रकार की एलर्जी।

– पीरियड्स, कंट्रासेप्टिव पिल्स, हार्मोन में बदलाव आदि।

– तेज लाइट, शोर या परफ्यूम की तेज स्मेल से उठने वाला सिरदर्द।

इंडियन टेलीविजन पर होगा ‘द डेनिश गर्ल’ का प्रीमियर, सेंसर बोर्ड ने लगाई थी रोक

कपिल को मिला दिवाली गिफ्ट तो फैंस को हुई जबरदस्‍त खुशी

आखिर क्या हैं माइग्रेन के लक्षण:

– काम करते वक़्त सिरदर्द का बहुत तेज़ी से बढ़ जाना।

– दर्द के मारे सर फटना और साथ में उल्टियां होना।

– छोटी बातों पर  बहुत अधिक घबराहट होना।

कैसे करें उपचार:

अगर आपको ट्रिगर्स और लक्षण पढ़ कर ऐसा लगता है की आपको माइग्रेन हो सकता है ओ तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ और सलाह लें. पहले पहल फिजीशियन के पास जा कर कंसल्ट करें. अगर उससे आराम ना मिले तो न्यूरोलॉजिस्ट को दिखाना चाहिए. इसके उपचार में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए.

माइग्रेन में कुछ घरेलू काम करने वाले नुस्खे हैं :

  • माइग्रेन के उपचार के लिए तमाम घर में किए जाने वाले उपचार भी हैं जिनसे बहुत राहत मिलती है.
  • कपूर में घी मिलाकर हल्के हाथ से दर्द वाली जगह पर मालिश करें.
  • बंद कमरे में अपने पसंदीदा गानों को धीमी आवाज में सुनिए.
  • बटर में मिश्री मिला कर खाने से भी आपके सर का दर्द काफी हद तक कम होता है.
  • नींबू के छिलके को पीस कर माथे पर लगाने से भी दर्द में बहुत तेजी से राहत मिलती है.
  • प्राणायाम करना भी माइग्रेन का रामबाण इलाज माना गया है.
  • तुलसी के पत्तों के चूरन को शहद में मिलाकर खाने से भी दर्द में कई महसूस होगी और दिमाग शांत होगा.

 

 

=>
LIVE TV