MEMORIES: आज ही के दिन, 1998 में सचिन तेंदुलकर की वह पारी

sachin-tendulkar-100-of-100s_650x400_61458104964एजेंसी/ नई दिल्ली: शारजाह में हुए 1998 के कोका-कोला कप में सचिन तेंदुलकर की उन पारियों को कौन भूल पाया है। 22 अप्रैल 1998 में भारत, ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच हुए इस टूर्नामेंट में भारत को अगर फाइनल में पहुंचना था, तो उसे हर हाल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक बड़ी हार बचानी थी।

ऑस्ट्रेलिया ने बनाए थे कुल 284 रन
ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 284 रन बनाए थे, जिसमें माइकल बेवन का शतक शामिल था। भारत को अगर फाइनल में पहुंचना था, उसे 254 रन तो बनाने ही थे। भारत के 4 विकेट 138 रन चले गए, तो भारत के फाइनल में जाने की उम्मीद कम होने लगी थी।

जब आया था सचिन तेंदुलकर का तूफान
भारत के 4 विकेट गिरने के बाद तभी अचानक शारजाह में रेत का तूफान आया और मैच को 4 ओवर के लिए रोक दिया गया। जब मैच दुबारा शुरू हुआ, तो भारत के लिए लक्ष्य बदल दिया गया। अब 276 रन जीत के लिए चाहिए थे और फ़ाइनल में पहुंचने के लिए 237 रन। रेत का तूफान तो थम गया, लेकिन उसके बाद आया सचिन तेंदुलकर का तूफान।

सचिन ने ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज़ों की ऐसी धुनाई की कि सब हैरान रह गए। आउट होने से पहले सचिन तेंदुलकर ने 143 रन बनाए, जिसमें 9 चौके और 5 छक्के शामिल थे। भारत की टीम 26 रनों से मैच हार गई, लेकिन सचिन की वो पारी भारत को फाइनल में पहुंचा गई। आज भी सचिन की उस पारी को डेजर्ट स्टॉर्म (Desert Storm) पारी के नाम से जाना जाता है।

=>
LIVE TV