JNU Reopen Update: 2 नवंबर से खुलेगा JNU, जानिए पहले चरण में किन छात्रों को मिलेगी आने की अनुमती

जवाहरलाल नेहरू विश्विद्यलय के खुलने का एलान किया जा चुका है। जानकारी के मुताबिक यूनिवर्सिटी को 2 नवंबर को बड़ी सतर्कता के साथ खोला जाएगा। बतादें कि यूनिवर्सिटी के खुलते ही सभी को आने की अनुमति नही दी जाएगी। बताया जा रहा है कि पहले चरण में पीएचडी फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स और शोधार्थियों को ही कैंपस में आने की अनुमति दी गई है जिन्हें अपनी थीसीज़ जमा करानी है।

यूनिवर्सिटी ने इस मामले को लेकर एक आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा है कि महामारी को मद्दे नजर रखते हुए यूनिवर्सिटी को चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा। कठित बयान के अनुसार केवल पीएचडी फाइनल ईयर छात्र और परियोजना कर्मचारियों को ही कैंपस में आने की अनुमति दी गई है साथ ही उन छात्रों को भी आने की इजाजत दी गई है जिन्हें प्रयोगशाला में अध्यन करना है।

JNU के प्रशासन के मुताबिक उनका दूसरा चरण 16 नवंबर से शुरू होगा। इस चरण के अनुसार केवल हॉस्टल में रहने वाले पीएचडी के फाइनल ईयर के छात्र ही आ सकेंगे। प्रशासन का कहना है कि इन दोनो चरणों के बाद समीक्षा की जाएगी। साथ ही परिसर में समय-समय पर COVID-19 परीक्षण शिविर केंद्र का आयोजन किया जाएगा। प्रशासन ने साफ तौर से कहा है कि यदि कोई भी व्यक्ति COVID-19 के दिशा निर्देशों का उल्लंघन करता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

आपको बतादें कि जेएनयू के छात्र संघ ने शोधार्थियों के कैंपस में चरणबद्ध तरीके से बुलाने के लिए मांग करी थी। इसको लेकर संघ के छात्र यूनिवर्सिटी के गेट पर फैसले का इंतजार कर रहे थे जिसके बाद प्रशासन ने उनकी मांग को स्वीकार करते हुए यूनिवर्सिटी को कोरोना के दिशानिर्देश के अनुसार खोलने का एलान किया।

=>
LIVE TV