HC ने सरकार से पूछा- मैच अहम या जनता?,IPL को महाराष्ट्र से शिफ्ट करने के आदेश,

bombay-high-court-1459941962एजेन्सी/मुंबई।बॉम्बे हाई कोर्ट ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से सूखे की समस्या से जूझ रहे महाराष्ट्र से इंडियन प्रीमियर लीग के मैचों को स्थानांतरित करने के लिए कहा है। हाई कोर्ट ने मंगलवार को अदालत में दायर की गई एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए बुधवार को कहा कि पानी को बचाया जाना चाहिए न कि आईपीएल मैचों पर बर्बाद करना चाहिए। 

हाई कोर्ट में दायर की गई जनहित याचिका में अपील की गई थी कि आईपीएल अध्यक्ष को पानी के इस्तेमाल के लिए कर भुगतान करना चाहिए क्योंकि ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के दौरान 60 हजार लीटर पानी केवल पिचों की देखरेख पर ही व्यर्थ हो जाएगा। 

हाई कोर्ट ने पूछा- लोग अहम हैं या आईपीएल

अदालत ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए कड़े शब्दों में कहा, ‘आप इस तरह से पानी कैसे बर्बाद कर सकते हैं। लोग ज्यादा अहम हैं या आईपीएल के मैच। आप इतने लापरवाह कैसे हो सकते हैं।’ आईपीएल आयोजकों ने दलील दी थी कि वे अपने इस्तेमाल के लिए पानी खरीदते हैं और यह पानी पीने योग्य नहीं है, लेकिन अदालत सूखे से जूझ रहे महाराष्ट्र में पानी की अहमियत को लेकर काफी गंभीर दिखी। 

महाराष्ट्र से शिफ्ट करें IPL

उच्च न्यायालय ने कहा कि जब बीसीसीआई का पानी काट दिया जाएगा तब उन्हें समझ आएगा। अदालत ने साथ ही यह सुझाव दिया कि बोर्ड आईपीएल के मैचों को उन राज्यों में स्थानांतरित कर दें जहां पानी की कमी न हो। 

वानखेड़े में मुंबई इंडियंस Vs पुणे सुपरजाइंट्स  का मैच

आईपीएल की शुरूआत नौ अप्रैल से होने जा रही है जहां गत चैंपियन मुंबई इंडियंस टूर्नामेंट की नई टीम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ अपना पहला मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेलेगी। महाराष्ट्र के तीन शहरों मुंबई, पुणे और नागपुर में आईपीएल के कई मैच आयोजित होने हैं। 

शिफ्ट करने से इंकार

आईपीएल के अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने महाराष्ट्र से मैचों को स्नांतरित किए जाने से इंकार कर दिया है। शुक्ला ने कहा, ‘जहां तक महाराष्ट्र में सूखे की समस्या है तो हम किसानों के साथ हैं और हर संभव तरीके से उनकी मदद करेंगे, लेकिन फिलहाल मैचों को स्थानांतरित किए जाने की योजना नहीं है।’

=>
LIVE TV