Wednesday , October 18 2017

राजधानी लखनऊ के साथ इस बार इन बड़े शहरों को मिलेंगी महिला महापौर

महापौरलखनऊ। पहली बार यूपी की राजधानी लखनऊ को महिला महापौर मिलने वाली है। इसके साथ ही कानपुर, गाजियाबाद, वाराणसी, मेरठ, फिरोजाबाद जैसे बड़े शहरों की सीटें भी महिलाओं के लिए आरक्षित रहेंगी। दरअसल, उत्तर प्रदेश में स्थानीय निकाय के चुनावों से पहले नगर निकायों के आरक्षण की सूची जारी कर दी गई है। उत्तर प्रदेश नगरपालिका अधिनियम 1916 की धारा-9 ए की उपधारा 5 के अधीन शक्ति का प्रयोग करते हुए नगर विकास विभाग ने शहरी निकायों के आरक्षण की लिस्ट जारी की है। गुरुवार को नगरीय विकास विभाग ने प्रदेश के 199 नगरपालिका परिषदों के साथ ही 16 नगर निगमों में आरक्षण की सूची जारी की।

मुलायम ने दिए अखिलेश से सुलह के संकेत, लंबे समय बाद आए साथ नजर

आपको बता दें कि वर्तमान में इस पद का प्रभार कार्यवाहक मेयर सुरेश चंद्र अवस्थी के पास है जिन्हें कि पूर्व महापौर दिनेश शर्मा के राज्य के उपमुख्यमंत्री बनने के बाद ये जिम्मेदारी दी गई थी। इसके अलावा पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पिछले चुनाव में अनारक्षित रही मेयर की सीट को इस बार पिछड़ा वर्ग (महिला) के लिए आरक्षित किया गया है। वर्तमान में बीजेपी के राम गोपाल मोहले वाराणसी नगर निगम के मेयर हैं।

महंत भी मेयर की रेस में

एक महंत के मुख्यमंत्री बनने के बाद अब राजधानी में मेयर पद की दौड़ में भी एक महिला महंत देव्या गिरि के नाम की चर्चा हो रही है। लखनऊ सीट महिला आरक्षित होने की पहले ही संभावना थी। ऐसे में बीजेपी नेता, पार्टी पदाधिकारी और कैबिनेट मंत्रियों के पास टिकट के लिए बायोडेटा जमा होने लगे हैं।

रोहिणी कोर्ट परिसर में वकीलों ने महिला से किया सामूहिक दुष्कर्म

कई वरिष्ठ नेता भी टिकट की दौड़ में

मजबूत माने जा रहे दावेदारों में कैबिनेट मंत्री बनने से वंचित रहीं अल्पसंख्यक मोर्चा की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, भातखंडे संगीत विश्वविद्यालय की प्रफेसर, महिला आयोग की सदस्य और कई पुरानी कार्यकर्ताओं के नाम महिला मेयर की दौड़ में शामिल हैं। मगर इन नामों में सबसे ज्यादा सुर्खियों में महंत देव्या गिरि हैं। पार्टी सूत्रों की मानें तो बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं, पदाधिकारियों और विधायकों के पास उनका बायोडाटा भी पहुंच चुका है।

महानगर बीजेपी अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने पहले ही कहा था कि महंत देव्या गिरि ने संपर्क कर मेयर का चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है। जब इस मामले में महंत देव्या गिरि ने पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी मेयर प्रत्याशी का टिकट देती है तो मैं शहर की सेवा करने से पीछे नहीं हटूंगी।

=>
LIVE TV