फिर छलका पूर्व केंद्रीय मंत्री का ‘पाक प्रेम’, बोले- पाकिस्तान का है POK और उसी का रहेगा

पाकिस्तान प्रेमनई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला का पाकिस्तान प्रेम एक बार फिर से छलक रहा है, फारुख अब्दुल्ला ने एक बार फिर से भारत और पाकिस्तान के बीच विवादित क्षेत्र पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को लेकर विवादित बयान दिया है। अब्दुल्ला का मानना है कि पाकिस्तान इस विवादित क्षेत्र का बराबर का साझीदार है और यह उसी के पास रहेगा।

कश्मीर के विवादित क्षेत्र को लेकर बरसों से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चला आ रहा है और इसे लेकर आए दिन पाकिस्तान की ओर से घाटी में आतंकी वारदात भी होती रहती हैं। जिसकी जवाबी कार्रवाई में हमारे कई भारतीय सैनिकों का खून भी बहता है लेकिन इन सबके बावजूद नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक का कहना है कि पाकिस्तान भी कश्मीर विवाद का हिस्सा है, लिहाजा इस मसले पर उससे भी बात करनी होगी।

PM मोदी सहित राजनीति के इन बड़े दिग्गजों का ‘मार्गदर्शन’ करता है ये मामूली इंसान

फारुख का कहना है कि कश्मीर के लगभग आधे हिस्से पर पाकिस्तान का कब्जा है और आधा हिस्सा भारत के पास है। ऐसे में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पाकिस्तान के पास ही रहेगा। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि कश्मीर का जो हिस्सा भारत के पास है वह भारत का ही है और उसी के पास रहेगा।

फारुख ने एक बयान देते हुए कहा है कि ”कश्मीर के लिए आजादी विकल्प नहीं है। क्योंकि भारत ने कश्मीर की पीठ में खंजर भोंका है।” फारुख ने इस मुद्दे पर पाकिस्तानी मंत्रियों का साथ देते हुए कहा है कि भारत उस समझौते को भूल चुका है जिसके तहत कश्मीर के हिस्से को अधिगृहीत किया है।

3 दिवसीय गुजरात दौरे पर राहुल गांधी, पीएम मोदी के गढ़ में करेंगे रैली

वहीं फारुख से जब दिनेश्वर शर्मा को कश्मीर समस्या की मध्यस्थता का जिम्मा सौंपे जाने के विषय पर बात की गई तो वो इससे मुकर गए। उन्होंने इस मुद्दे पर कहा कि ”मैं इस पर ज्यादा टिप्पणी नहीं कर सकता हूं। फारुख ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच का यह विवाद केवल बातचीत से ही समाप्त नहीं हो सकता और वे इसे बातचीत के जरिए सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं। फारुख ने यह भी कहा कि भारत सरकार को कश्मीर मसले पर पाकिस्तान सरकार से बात करनी होगी, क्योंकि पाकिस्तान के पास भी कश्मीर का हिस्सा है।”

=>
LIVE TV