चिल्का झील के ऊपर उड़ान भरने के लिए पांडा की गिरफ्तारी की मांग

भुवनेश्वर। ओडिशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) ने मंगलवार को पूर्व सांसद बैजयंत पांडा को गत सप्ताह चिल्का झील के इको-सेंसेटिव जोन में कथित रूप से उड़ान भरने के लिए गिरफ्तार करने की मांग की। हाथों में बैनर लिए बीजद के कई विधायकों ने पांडा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर ओडिशा विधानसभा के परिसर में महात्मा गांधी की मूर्ति के समीप प्रदर्शन किया।

सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद)

विधायकों ने 15 सितम्बर को हेलीकॉप्टर में पांडा के साथ मौजूद अभिजीत अय्यर मित्रा को भी कोणार्क सूर्य मंदिर के बारे में असंवेदनशील बयान देने के लिए गिरफ्तार करने की मांग की।

अय्यर ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट कर कहा था कि मंदिर हिंदू सभ्यता के खिलाफ एक बहुत बड़ी साजिश है।

बीजद विधायक संजय दास बर्मा ने कहा, “जो कानून के रक्षक हैं, वे इसका उल्लंघन कर रहे हैं। केंद्र ने जैव-विविधता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के कारण चिल्का झील में सीप्लेन के प्रस्ताव को हटा लिया, लेकिन वे (पांडा) झील के उपर हेलीकॉप्टर उड़ा रहे हैं।”

वन व पर्यावरण मंत्री बिजयश्री राउत्रे ने कहा, “इस संबंध में एफआईआर पहले ही दर्ज कर दी गई है। कानून के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी, ताकि इस तरह की घटना दोबारा न हो।”

यह भी पढ़ें- संयुक्त राष्ट्र को भारत की दो टूक, तस्करी के मुद्दे पर उठाया ये बड़ा सवाल

पुलिस ने सोमवार को विमान नियमों का उल्लंघन करने और इको-सेंसेटिव जोन में प्रवेश करने के लिए पांडा द्वारा इस्तेमाल किए गए हेलीकॉप्टर को जब्त कर लिया था।

यह कार्रवाई चिल्का विकास प्राधिकरण (सीडीए) द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर की गई।

कांग्रेस नेता तारा प्रसाद बाहिनीपति ने कहा, “अगर यह एक संरक्षित क्षेत्र है, तो ओडिशा के मुख्यमंत्री (नवीन पटनायक) को क्यों इसी क्षेत्र से उड़ान भरने की इजाजत दी गई और अगर कोई इसे दूसरा करता है तो वह गलत साबित हो जाता है। यह राजनीतिक साजिश है।”

यह भी पढ़ें- इमरान सरकार पर राजनाथ सिंह रखते हैं गजब की सोच! बस मुमकिन और नामुमकिन की फेर में न फंसे ये बात

भाजपा के नेता के.वी. सिंहदेव ने कहा, “बीजद को उसी जोन में उड़ान भरने के लिए पटनायक की गिरफ्तारी की मांग करनी चाहिए। अगर वे चिल्का झील की सुरक्षा करना चाहते हैं तो कई बार झील के उपर उड़ान भर चुके मुख्यमंत्री को भी गिरफ्तार करना चाहिए।”

सत्तारूढ़ पार्टी से इस्तीफा देने वाले पांडा ने कहा कि राज्य सरकार फर्जी रूप से उन्हें फंसाना और विवाद में घसीटना चाहती है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, “ओडिशा पुलिस, हेलीकॉप्टर को अवैध रूप से जब्त करने से हो सकता है मेरी गति धीमी हो जाए लेकिन यह मुझे लोगों तक पहुंचने से नहीं रोक सकता।”

=>
LIVE TV