कांग्रेस के ‘पितामह’ ने दिया संकेत, काउंटिंग से एक दिन पहले तय हुई सिद्धारमैया की हार

नई दिल्ली। कर्नाटक चुनाव के मद्देनज़र अब सभी की नज़रें आने वाले परिणामों पर टिकी हुई हैं। 15 मई को मतगणना होनी है। इसलिए ये कहा जा सकता है कि देर शाम तक स्थिति साफ़ हो सकती है। साथ ही लगाये जा रहे कयासों की धुंध भी छंट सकती है। हालांकि कर्नाटक में प्रबल दावेदार के तौर पर दो ही मुख्य पार्टियों को देखा जा रहा है, जो है भाजपा और कांग्रेस

अब भाजपा का सिक्का तो पहले से बोलता आया है ऐसे में इस बार भी उम्मीदों का जखीरा भाजपा की झोली में ही जाने का आंकलन किया जा रहा है। वहीं कांग्रेस की बात की जाए तो वो भी बराबरी के दांव का दम भर रही है। आने वाले नतीजों पर कांग्रेस भी दम भर रही है कि बाजी उन्ही के हाथों में जाएगी।

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में भड़की हिंसा, फूंके गए बैलेट बॉक्स, 5 की मौत

कर्नाटक चुनाव

मगर यदि ये मान लिया जाए कि कांग्रेस ये बाजी जीत भी जाती है तो सिद्धारमैया सरकार नहीं बनेगी। इस बात के संकेत मिल रहे हैं। ख़ास यह है कि ऐसा संकेत देने वाले और कोई नहीं बल्कि कांग्रेस के ही एक दिग्गज नेता है।

खबरों के मुताबिक़ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक न्यूज एंजेसी से बातचीत के दौरान इस बात का खुलासा किया।

उन्होंने कहा कि मीडिया पार्टी नेताओं के बीच मन-मुटाव पैदा करने का काम कर रही है। फिलहार जीत हासिल करने के बाद कर्नाटक की सत्ता किसके हाथ में सौंपी जाती है, इस बात का फैसला पार्टी के आलाकमान ही तय करेंगे। उससे पहले कुछ भी कहना उचित नहीं होगा।

यह भी पढ़ें : VIDEO: बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान बवाल, दीदी के मंत्री ने भाजपा समर्थक को जड़ा चांटा

उनकी इस बात से यह साफ़ होता है कि पार्टी कहीं न कहीं कर्नाटक के मौजूदा सीएम सिद्धारमैया को रिप्लेस करने का मन बना रही है। यानी सिद्धारमैया को सीएम पद पर बरकरार रखने के मामले में पार्टी में अभी संशय की स्थिति है।

इससे पहले सिद्धारमैया भी खुद इस बात का ऐलान कर चुके हैं कि दलित सीएम के लिए वे सीएम पद को त्याग सकते हैं।

खैर जो भी हो… ये गणित भी तभी काम आएगी, जब कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस किला फतह कर ले जाए। फिलहाल नतीजे आने बाकी हैं। कुछ भी हो सकता है। बाजी किसी के भी पाले में करवट बदल सकती है। अभी तो मामला महज संभावनाओं और अटकलों पर टिका हुआ है।

अटकलों में यह भी अनुमान लगाया जा रहा है कि कांग्रेस और भाजपा की इस जंग में जेडीएस मुख्य किरदार निभाकर किंगमेकर की भूमिका निभा सकती है।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV