Saturday , October 21 2017

CJI का वही दर्द, जिससे देश परेशान, नियुक्ति नहीं तो फैसले कैसे…

CJIनई दिल्‍ली। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया टीएस ठाकुर ने जजों की नियुक्ति को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। CJI ने कहा कि आज हाई कोर्ट में 500 जजों के पद खाली हैं, कोर्ट रूम खाली हैं, लेकिन जज नहीं हैं। चीफ जस्टिस पर पलटवार करते हुए कानून मंत्री ने कहा कि इस साल सबसे ज्यादा जजों की नियुक्ति हुई है।

चीफ जस्टिस ने कहा कि आज ऐसी स्थिति है जब सुप्रीम कोर्ट का कोई सेवानिवृत्त न्यायाधीश ट्रिब्यूनल का चीफ नहीं बनना चाहता।  कई ट्रिब्यूनल खाली पड़े हैं।  वहां मेरे सेवानिवृत्त सहयोगियों भेजने से दुखी हूं।

टीएस ठाकुर ने कहा कि जजों की नियुक्ति हुई है, लेकिन बड़ी संख्या में दिए गए प्रस्ताव अभी भी पेंडिंग में है। उम्मीद है कि सरकार उन पर गौर करेगी। टीएस ठाकुर ने ट्रिब्यूनलों की खराब हालत का भी ठीकरा सरकार पर फोड़ा। उन्होंने कहा कि सरकार उचित सुविधाएं देने के लिए तैयार नहीं है। ट्रिब्यूनल के लिए बुनियादी सुविधाओं के अलावा रिक्ति एक प्रमुख चिंता का विषय है।

रविशंकर प्रसाद ने भी पलटवार करते हुए कहा कहा कि हम मुख्य न्यायाधीश का सम्मान करते है।  लेकिन सम्मान के साथ हम असहमत हैं।  इस साल हमने 120 न्यायाधीशों की नियुक्ति कर दी है।

 

 

=>
LIVE TV