प्रेरक प्रसंग

प्रेरक प्रसंग : गुण-अवगुण

प्रेरक प्रसंग

जब रीवां की गद्दी पर महाराज जोरावर सिंह जूदेव बैठे तो उन्होंने अपने राज्य में अनेक सुधार किए। यह भी कहा कि हमारा राज्य उसी धर्म का अनुयायी होगा जो सर्वमान्य और निर्दोष होगा। उन्होंने सभी धर्म और संप्रदाय के प्रमुख साधु-संतों, विद्वानों और मठाधीशों की सभा बुलाई। सभी प्रतिनिधियों ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : सच्ची सीख

प्रेरक प्रसंग

स्वामी रामकृष्ण परमहंस के शरीर त्यागने के बाद उनके शिष्य स्वामी विवेकानंद तीर्थयात्रा के लिए निकले। देश के विभिन्न तीर्थों के दर्शन करते हुए वह काशी पहुंचे। विश्वनाथ मंदिर के पूरे भक्तिभाव से दर्शन करने के बाद जब स्वामी विवेकानंद बाहर आए तो देखा कि कुछ बंदर इधर से उधर ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : वाणी की मधुरता

कोयल और कौवा

संस्कृत साहित्य की यह चर्चित कथा है। एक बार वसंत ऋतु में एक कोयल वृक्ष पर बैठी कूक रही थी। आते-जाते लोग उसकी कूक को सुनते और उसकी सुरीली आवाज का आनंद लेते हुए उसकी तारीफ के पुल बांधते। कुछ देर बाद कोयल के सामने एक कौआ तेज गति से ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : सच्ची पूजा

प्रेरक प्रसंग

डेरा गाजी खान में राय साहब रघुनाथदास हकीम अपने युवा पुत्र श्यामदास के साथ रोगियों की सेवा किया करते थे। पूरा परिवार चैतन्य महाप्रभु का अनन्य भक्त था। भारत विभाजन होने के बाद उनके पूरे परिवार को डेरा गाजी खान से पलायन करना पड़ा। वहां से वह वृंदावन पहुंचे और ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : समय का महत्‍व

प्रेरक प्रसंग

जॉर्ज बर्नार्ड शॉ अंग्रेजी के प्रसिद्ध लेखक थे। लेकिन उन्हें यह प्रसिद्धि आसानी से नहीं मिली थी। इसके लिए उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ा था। जैसे-जैसे उनकी रचनाओं को पाठकों की सराहना मिलती गई वैसे-वैसे वह सफलता की बुलंदियों को छूते गए। इसके बाद उन्हें आए दिन अनेक कार्यक्रमों में ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : सफलता की राह

प्रेरक प्रसंग

बालिका विनफ्री बचपन से ही पढ़ने में अत्यंत तेज थी, लेकिन उसका जीवन दुख भरा था। उसके माता-पिता साथ नहीं रहते थे। विनफ्री अपनी मां के साथ रहती थी। मां के नौकर उसे बहुत परेशान करते थे। डर के कारण वह नौकरों के बारे में किसी को बता नहीं पाती ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : केवल लक्ष्य पर ध्यान लगाओ

प्रेरक प्रसंग

एक बार स्वामी विवेकानंद अमेरिका में भ्रमण कर रहे थे। अचानक, एक जगह से गुजरते हुए उन्होंने पुल पर खड़े कुछ लड़कों को नदी में तैर रहे अंडे के छिलकों पर बन्दूक से निशाना लगाते देखा। किसी भी लड़के का एक भी निशाना सही नहीं लग रहा था। तब उन्होंने ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : उम्र की सीमा पार

प्रेरक प्रसंग

हरलेन सैंडर्स बूढ़े और गरीब थे। उनका जीवन असफलताओं से भरा हुआ था। वह जो भी काम करते, उसमें उन्हें निराशा हाथ लगती। लेकिन उनमें एक खासियत थी। वह असफलताओं से नहीं घबराते थे। जब उनका कोई आइडिया काम नहीं आया तो काफी सोच-विचार कर उन्होंने केंटुकी फ्राइड चिकन फ्रैंचाइजी ...

Read More »

प्रेेरक प्रसंग : मृत्यु का पाप

प्रेेरक प्रसंग

कलकत्ता में हिन्दू – मुस्लिम दंगे भड़के हुए थे। तमाम प्रयासों के बावजूद लोग शांत नहीं हो रहे थे। ऐसी स्थिति में गाँधी जी वहां पहुंचे और एक मुस्लिम मित्र के यहाँ ठहरे। उनके पहुचने से दंगा कुछ शांत हुआ लेकिन कुछ ही दोनों में फिर से आग भड़क उठी। ...

Read More »

प्रेेरक प्रसंग : व्‍यर्थ का घमंड

एक गांव में सप्ताह के एक दिन प्रवचन होता था। इसकी व्यवस्था गांव के कुछ प्रबुद्ध लोगों ने कराई थी जिससे कि भोले-भाले ग्रामीणों को धर्म का कुछ ज्ञान हो सके। इसके लिए एक दिन एक ज्ञानी पुरुष को बुलाया गया। गांव वाले समय से पहुंच गए। ज्ञानी पुरुष ने ...

Read More »
LIVE TV