Bihar Assembly Election 2020: JDU विधायक से जानता ने मांगा पिछले पांच साल का हिसाब, नहीं बता पाने पर किया ये काम

पटना: बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर सभी नेता जोश में आ गए है । चुनाव की तैयारियों को लेकर सारी पार्टियों जोरों पर हैं। चुनाव में उम्मीदवार सभी पार्टियों के नेता, विधायक अपने-अपने इलाकों के दौरे में जौर -सोर से लग गए हैं। ऐसे में बिहार की जनता भी फायदा उठाने से पीछे नहीं हटती। वोट भले ही किसी एक पार्टी को दे, मगर स्वागत सबका बड़े ही प्रेम से कटरी है।

लेकिन इस बार थोड़ा अलग हो गया। दरअसल हुआ कुछ यूं कि वैशाली जिले के महनार में JDU विधायक उमेश कुशवाहा अपने समर्थकों के साथ प्रचार-प्रसार के लिए चकेशों गांव पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद MLA उमेश आगामी पांच साल के लिए कोई वादा करते, उससे पहले ही वहां मौजूद गांव के लोगों ने उनसे पिछले पांच साल का हिसाब किताब मांग लिया।

इसके बाद विधायक जी के साथ गए समर्थकों ने वहां इकठ्ठा हुई भीड़ को संभालने की कोशिश भी की, लेकिन बात नहीं बनी। बल्कि बात संभलने की बजाय और बिगड़ गई। चुनावी सभा में ही लोगों ने मिलकर विधायक के समर्थकों को पीट दिया। मामला बढ़ता देख विधायक के बॉडीगार्ड ने बीच-बचाव किया। हालांकि ये पहला मामला नहीं है। ऐसी ही एक घटना हाजीपुर में भी हुई। वहां पर बीजेपी के विधायक को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा।

दरअसल, हाजीपुर में बीजेपी विधायक अवधेश सिंह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन करने दयालपुर पहुंचे थे। लेकिन लोगों के गुस्से और हंगामे के बाद गाड़ी छोड़कर पैदल ही भागना पड़ा। यहां पर विधायक अवधेश सिंह PHC तक एक जर्जर सड़क से पहुंचे थे। लोगों ने इसी सड़क के मुद्दे पर उन्हें घेर लिया।

विधायक अवधेश सिंह ने लोगों को समझाने की बहुत कोशिश की। उनकी टीम के लोगों ने भी समझाया लेकिन लोग नहीं माने। यहां पर विधायक और पार्टी के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगने लगे। इसके बाद विधायक अवधेश सिंह अपनी गाड़ी छोड़कर उल्टे पांव भाग निकले। पीछे से लोग उनके और पार्टी के खिलाफ जोर-जोर से नारे लगाते रहे। हालांकि कुछ दूर पैदल चलने के बाद विधायक अवधेश की गाड़ी ने उन्हें पिक किया।

=>
LIVE TV