मानसिक रूप से बीमार छात्रा के साथ रेप करने वाला आरोपी और उसकी साथी गिरफ्तार

रिपोर्ट- विकास

कानपुर। 11 अगस्त को चकेरी की रहने वाली एक महिला ने अपनी बारह वर्षीय मासूम बच्ची के साथ स्कूल में रेप किये जाने की एफआईआर दर्ज कराई थी। यह बच्ची मानसिक रूप से बीमार थी। बच्ची छावनी बोर्ड के विकलांग स्कूल में पढ़ती थी स्कूल की वैन ही प्रतिदिन बच्ची को घर से स्कूल लाने में लगी थी बच्ची की माँ को पहले किसी तरह अपनी बच्ची से गलत होने का एहसास हुआ तो उसने बच्ची से पूरी पूछताछ की बच्ची ने इशारे में रेप किये जाने की जानकारी दी।

आरोपी

न्याय के लिए माँ  ने  ग्यारह अगस्त की रात को रेल बाजार थाने में एफआईआर लिखने की एप्लिकेशन दी थी लेकिन पहले पुलिस एफआईआर लिखने की जगह बच्ची की माँ टालने की कोशिश की थी। जिस पर बच्ची की माँ ने थाने में जमकर हंगामा काटा था उसने यहाँ तक धमकी दी थी की  मै गोरखपुर में सीएम योगीजी के गांव की रहने वाली हूं मेरा उनसे परिचय है कमजोर न समझना  बड़े दबाव के बाद पुलिस ने रात में रेप और पास्को एक्ट में रिपोर्ट दर्ज की थी।

आज कई दिनों की जांच के बाद पुलिस ने स्कूल के वैन ड्राइवर नीरज  और स्कूल की आया मंजू को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। जबकि जिस ड्राइवर नीरज को पुलिस ने  जेल भेजा है वह अभी एक महीने पहले ही ड्राइवरी करने आया था इस नजरिये से पुलिस की कार्यवाही पर सवाल भी खड़ा हो रहा है।

हालांकि पुलिस अभी यह भी दावा कर रही है की हमारी जांच अभी जारी है। बच्ची की माँ ने भी काफी समय से बच्ची के साथ गलत होने का आरोप लगाया था जाहिर है अगर यह सच है तो ये ड्राइवर नीरज का गिरफ्तार किया जाना पुलिस की जांच को कटघरे में खड़ा करता है।

यह भी पढ़े: विधायक ने थानेदार को दी ट्रांसफर की धमकी, ऑडियो वायरल

पुलिस का कहना है कि ग्यारह अगस्त को एक महिला ने अपनी 12 वर्षीय बच्ची के साथ स्कूल में गलत काम किये जाने की एफआईआर दर्ज कराई थी। उसकी जांच के बाद पुलिस ने अभीतक के सबूतों के आधार पर वैन ड्राइवर और एक आया को गिरफ्तार किया है बाकी की जांच अभी चल रही है।

=>
LIVE TV