रंगदारी व फायरिंग प्रकरण में प्रेस-कांफ्रेंस बुलाया गया

मेरठ : एसटीएफ व पुलिस द्वारा डॉक्टर विनोद से रंगदारी व फायरिंग प्रकरण में ऊधम सिंह गैंग के पकड़े गए शूटर और गैंग लीडर ऊधम सिंह की पत्नि गीतांजलि के मामले में ऊधम की मां व करनावल की पूर्व चेयरपर्सन सुमित्रा देवी ने प्रेस-कांफ्रेंस बुलाकर विरोधियों पर गीतांजलि को झूठा फंसवाने का आरोप लगाया है। इसे लेकर पूर्व चेयरप्रर्सन ने अपने निवास पर कस्बे के लोगों की पंचायत बुलाकर पुलिस-प्रशासन पर तमाम आरोप भी लगए।

गौरतलब है कि कुछ दिन पूर्व डा.विनोद चौधरी पर हुई फायरिंग व रंगदारी प्रकरण में सोमवार को मेरठ पुलिस व एसटीएफ द्वारा ऊधम सिंह गैंग के चार शूटरों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है और साथ ही ऊधम सिंह की पत्नि गीतांजलि को गैंग लीडर के रूप में लखनऊ से पकड़ी गई। इस पूरे प्रकरण को लेकर करनावल की पूर्व चेरपर्सन सुमित्रा देवी ने अपने निवास पर क प्रेस-कांफ्रेस बुलाई। जिसमें उन्होंने कस्बे व आसपास से आए दर्जनों लोगों के बीच में कहा कि जिस तरह से पुलिस-प्रशासन उनके व परिवार के पीछे पड़ा हुआ है इस तरह से वे चाहकर भी अपने परिवार के साथ में सुख शांति से नही रहने दिया जा रहा है।

उन्होंने पुलिस-प्रशासन पर विरोधियों के इशारों पर नाचने का आरोप लगाते हुए कहा कि विरोधियों ने पहले उनके चेयरपर्सन रहते उन पर कंकंरखेड़ा आदि थानों के फर्जी मुकदमें लाद दिये और इसके बाद फिर बेटे ऊधम सिंह पर फर्जी मुकदमें लादकर जेल भेज दिया गया। यही नहीं प्रशासन ने ऊधम सिंह की पत्नि गीताजंलि पर भी पूर्व में दूसरे लोगों से मिलकर मुकदमें दर्ज किये और अब एक बार फिर से पुलिस ने विरोधियों के इशारों पर काम करते हुए गीतांजिल को गैंग लीडर फर्जी रूप से बनाकर गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसका इस पूरे प्रकरण से कोई लेना-देना नही था। सुमित्रा देवी ने इस पर अफसोस जाहिर करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है।
संवाददाता :- अक्षय कुमार

=>
LIVE TV