#NIA मामला: मुख्य आरोपी मुनीर बिजनौर ही नहीं अब पूरी उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्ट वांटेड बन गया

CffciZKWwAA9XOtमुरादाबाद :- एनआईए अफसर तंजील अहमद की हत्या का मुख्य आरोपी मुनीर बिजनौर ही नहीं अब पूरी उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्ट वांटेड बन गया है। दो लाख रुपये का इनामी मुनीर प्रदेश के टॉप 20 बदमाशों की सूची में 19 वें स्थान पर है। जबकि मेरठ का मोनू गुर्जर इस सूची में पहले स्थान पर है। मुनीर पिछले एक माह से पुलिस और जांच एजेंसियों को छका रहा है।
बिजनौर के सहसपुर गांव में एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) के डिप्टी एसपी मो. तंजील अहमद की दो अप्रैल की रात बिजनौर के सहसपुर गांव के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जबकि उनकी पत्नी को भी गोलियां मारी गई थीं। इलाज के दौरान पत्नी फरजाना ने भी दम तोड़ दिया था।
इस सनसनीखेज डबल मर्डर से उत्तर प्रदेश पुलिस ही नहीं राष्ट्रीय जांच एजेंसी में हड़कंप मच गया था। पुलिस की जांच में सहसपुर के हिस्ट्रीशीटर मुनीर का इस हत्याकांड में नाम सामने आया था। इसके बाद पुलिस ने मुनीर की तलाश में ताबड़तोड़ दबिशें दीं। लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया।
मुनीर अलीगढ़ में छात्र नेता आलम गीर और व्यापारी फहद की हत्या कर चुका था। वहां उस पर पांच हजार का इनाम घोषित था। पुलिस ने अलीगढ़ से भी इनपुट जुटाया, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई। इसके बाद मुनीर पर पचास हजार रुपये का इनाम घोषित किया।
पुलिस और जांच एजेंसियां उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, दिल्ली और हरियाणा में तलाशती रहीं। लेकिन पुलिस के हाथ मुनीर तक नहीं पहुंच पाए। शासन के आदेश पर मुनीर पर दो लाख रुपये का इनाम घोषित हो चुका है। अब मुनीर उत्तर प्रदेश पुलिस का मोस्टवांटेड बन गया है।
प्रदेश के टॉप 20 बदमाशों में मुनीर अपनी जगह बना चुका है। इसके अलावा कुख्यात अपराधी मोनू गुर्जर, बलराज भाटी, बबली कौल, कौशल कुमार, विनोद कुमार, मनीष सिंह, संजीव नला, सुधीर उर्फ महकार सिंह, राम नरेश ठाकुर, विश्वास नेपाली, सुनील यादव, अजीम अहमद,आदि शामिल है
संवाददाता:- अक्षय कुमार

=>
LIVE TV