महिला सशक्तिकरण के प्रति उत्प्रेरित करें-जिलाधिकारी

सोनभद्र। “‘आशा किरण‘‘ के रूप में स्कूली बच्चियां, छात्राओं को जागरूक कराने के साथ ही महिलाओं को भी महिला सशक्तिकरण के प्रति उत्प्रेरित करें। जब महिला समाज मजबूत होगा, तभी सर्व समाज की स्थापना होगी। जिस समाज में महिलाओं ने अग्रणीय भूमिका निभायी, वह समाज निश्चित रूप से चतुर्दिक विकास किया, लिहाजा जिले में महिला उत्पीड़न के रोकथाम के लिए राजकीय इण्टर कालेज की चयनित ‘‘आशा किरण‘‘ के रूप में ब्राण्ड अम्बेसडर की भूमिका निभायें।
उक्त बातें जिलाधिकारी सी0बी0 सिंह ने राज्य महिला आयोग द्वारा विशेष कर घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को तत्काल न्याय दिलाने के उद्देश्य से राजकीय महिला कालेजों की चयनित 08 बालिकाआंें को ‘‘आशा किरण‘‘ परिचय पत्र प्रदान करते हुए कहीं। जिलाधिकारी ने मौके पर मौजूद जिला विद्यालय निरीक्षक को आवश्यक दिशा -निर्देश देते हुए कहा कि स्कूलों में छात्राओं को महिला सशक्तिकरण के प्रति ज्यादा से ज्यादा जागरूक करते हुए महिलाओें/बालिकाओं के हकूकों के प्रति बेदार किया जाय। उन्होंने कहा कि राज्य महिला आयोग के निर्देशानुसार महिला उत्पीड़न के रोकथाम के लिए स्कूलों में अध्ययनरत/चयनित/नामित ‘‘आशा किरण‘‘ के साथ ही प्रार्थना के समय बालिकाओं में आत्म विश्वास बढ़ाये जाने के प्रति उद्बोधन दिया जाय।
उन्होंने कहा कि चयनित ‘‘आशा किरण‘‘ को यूनिक पहचान पत्र मुहैया कराते हुए खुशी का इजहार करते हुए कहा कि बालिकाओं में क्षमता की कमी नहीं है, जरूरत है सिर्फ, इनमें छिपी हुई प्रतिभा को निखारने की। जिलाधिकारी ने ‘‘आशा किरणों‘‘ को जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के मोबाइल नम्बर मुहैया कराते हुए कहा कि हमारी नामित ‘‘आशा किरण‘‘ जहॉ कहीं भी महिला उत्पीड़न देखें, वे तत्काल अपने प्रधानाचार्य को सूचित करें। प्रधानाचार्या/प्रधानाचार्य पूरी तत्परता के साथ सक्षम स्तर तक महिला उत्पीड़न मामलों से अवगत करायें, ताकि तत्काल घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को जागरूक किया जाय और जब महिलाएं जागरूक होगी, तो उनका कोई उत्पीड़न या घरेलू हिंसा नहीं कर सकेगा। जिलाधिकारी ने राजकीय इण्टर कालेज दुद्धी की कौशल बानों, रचना तिवारी, आयशा रावत, राजकीय बालिका कालेज इण्टर कालेज की दरख्शां बानों, हेमा शुक्ला, काजल गुप्ता, राजकीय बालिका इण्टर कालेज ओबरा की शाहिमा खातून व ज्वोत्सना पटेल को ‘‘आशा किरण‘‘ परिचय पत्र प्रदान किया। इस मौके पर जिलाधिकारी के अलावा मुख्य विकास अधिकारी महेन्द्र सिंह, एसडीएम सदर कैलाश सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षण देवेश शर्मा, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी मनभरन राम राजभर,सूचना विभाग के नेसार अहमद, अबुल्लैश सिद्दकीय सहित सम्बन्धित राजकीय इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य आदि मौजूद रहें।

=>
LIVE TV