पांच दिन की भाग दौड़ के बाद भी सभा स्थल तय नही कर पाए

मेरठ : सात मई के लिये मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को जिले के अफसरों की फौज पांच दिन की भाग दौड़ के बाद भी तय सभा स्थल तय नही कर पाए हैं। जबकि रोजाना जिले से दौरे पर आ रहे अफसरों की गाडिय़ों में अब तक हजारों रुपये का तेल फुंक चुका है लेकिन पांच दिनों की मशक्कत के बाद भी अफसार कार्यक्रम स्थल तय कर पाने में विफल रहे हैं।

इसे लेकर पांचवे दिन भी देर शाम से लेकर रात तक अफसर सरूरपुर क्षेत्र में डटे रहे और सभा के लिये जगह तय नही कर पाए। हालांकि प्रशासन की सुईं थक हारकर हर्रा मोड़ पर ही टिक रही है। वहीं, दूसरी और पीडब्लूडी विभाग ने कार्यक्रम नजदीक होने के कारण तैयारियों से हाथ खड़े करने शुरु कर दिये हैं।

सात मई को सीएम के कार्यक्रम को लेकर लगातार पांच दिनों से जिले के अफसर डीएम एसएसपी,डीआईजी एडीएम आदि बडे अफसर सरूरपुर की दौड़ लगा रहे हैं और लंबी भागदौड़ के बाद भी सभा स्थल तय नही कर पाए हैं। सबसे पहले सभा हाईवे के नजदीक करने की बात पर अफसरों से सरूरपुर कॉलेज को पास किया लेकिन भीड़ लिहाज से इसे फेल कर दिया। हालांकि सूची में इसे रखा गया है। इसके बाद अफसरों ने भूनी चैराहे पर भी मैदान को देखा। जबकि हर्रा मोड़ पर फार्म हाऊस के पास खाली पड़े खेतों में सभा स्थल तय कर लिया गया था और हैलीपैड़ फार्म हाऊस में लेकिन और इसके पास ही चरागाह की भूमि पर आम पार्किंग की व्यवस्था का खाका तैयार किया गया था।

इसे लेकर पिछले पांच दिनों से जिले के हर छोटे बड़े अफसर ने हर्रा मोड़ पर सभा स्थल का दौरा किया और बेहतर बताया। लेकिन गेंद डीएम के पाले में रही हालांकि खुद डीएम साहब भी लगातार आ रहे हैं लेकिन फाइनल नही हो पा रहा है जबकि जबकि सभा होने में अब महज पांच दिन शेष रहे गए हैं। लेकिन रोजाना मैदान तय करने के लिये हजारों रुपये का डीजल फूंक रह प्रशासनिक अमला सभा स्थल तय नही कर पा रहा है।

=>
LIVE TV