हो जाए सतर्क! चीनी हैकर्स कर रहे हैं भारतीय हेल्थकेयर वेबसाइट को आसानी से हैक…

आज के समय सोशल मीडिया में बनी आपकी वेबसाइट आसानी से हैक हो जाती हैं। बतादें कि हैंकर्स आपकी ID हो या वेबसाइट हैक करने में काफ़ी अस्पेर्ट हो रहे हैं। इसमें जरूरत हिं आपको अपमी ईमेल को प्राइवेट रखने कि क्योंकि ईमेल के जरिये ये आपकी ID हैक कर लेते हैं।

 

 

खबरों के मुताबिक भारतीय हेल्थकेयर वेबसाइट के हैक होने की खबर है। अमेरिकी साइबर सिक्योरिटी फर्म फायरआई ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि चीनी हैकर्स ने भारतीय हेल्थकेयर वेबसाइट को निशाना बनाया है और करीब 68 लाख डाटा चोरी की है। इस डाटा में मरीज और डॉक्टरों की निजी जानकारी शामिल हैं। रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि ये हैकर्स हेल्थ डाटा को अंतरराष्ट्रीय बाजारों में हेल्थ ऑर्गनाइजेशन और वेब पोर्टल को बेच रहे हैं।

जियो ग्राहकों के लिए खुशखबरी , अब जियो टीवी पर होगा श्री गोविंद देवजी मंदिर के आयोजनों का सीधा प्रसारण

दरअसल फायरआई की रिपोर्ट में कहा गया है कि हैकर का नाम फॉलनस्काई519 है जिसने भारतीय हेल्थकेयर वेबसाइट को अपना शिकार बनाया है। फायरआई की इंटेलीजेंस टीम के मुताबिक चोरी हुए डाटा में 1 अक्टूबर 2018 से 31 मार्च 2019 के बीच स्वास्थ्य संबंधी डाटा ब्लैक मार्केट में बिक्री के लिए उपलब्ध था। बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध कुछ डाटा की कीमत 1.50 लाख रुपये से भी कम थी।

वहीं चीनी हैकर्स एडवांस्ड पर्सिस्टेंट थ्रेट ग्रुप (एपीटी) स्वास्थ्य संबंधित रिसर्च कर रहे हैं। यह रिसर्च खासतौर पर कैंसर से संबंधित है। दरअसल पिछले कुछ दशक में चीन में कैंसर से मरने वालों की संख्या काफी ज्यादा हो गई है।वहीं यह भी कहा जा रहा है कि पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (पीआरसी) दुनिया में तेजी से पांव पसारती कंपनी है। ऐसे में अन्य कंपनियों से पहले बाजार में दवा पेश करने के लिए रिसर्च कर रही है और इसके लिए डाटा इकट्ठा कर रही है।

 

 

=>
LIVE TV