हनुमान चालीसा के इन दोहों का रोज करें सुमरन, दूर हो जाएगी सारी परेशानी

मंगलवार के दिन मर्यादा पुरुषोत्तम राम के अनन्य भक्त बजरंगबली की पूजा-उपासना की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि कलियुग में जहां राम नाम की धुन होती है। वहां, बजरंगबली किसी न किसी रूप में जरूर प्रकट होते हैं।

इसके साथ ही बजरंगबली अपने भक्तों की सभी कठिनाइयों को दूर करते हैं। धार्मिक मान्यता है कि अगर कोई व्यक्ति रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ करे तो व्यक्ति के सभी दुःख और क्लेश दूर हो जाते हैं। इसके साथ ही हनुमान चालीसा में कई ऐसे दोहे हैं, जिनके सुमरन से अनेकों फायदे मिलते हैं। अगर आपको नहीं पता हैं तो आइए जानते हैं-

बल बुद्धि विद्या देहु मोहि हरहुं कलेश विकार !!

अगर व्यक्ति रोजाना इस दोहे का जाप करें तो व्यक्ति के समस्त दुःख और क्लेश दूर हो जाते हैं। जबकि बजरंगबली अपने भक्त को बल, बुद्धि, विद्या देते हैं।

भूत पिसाच निकट नहीं आवे,

महावीर जब नाम सुनावे!!

अगर आप रोजाना इस दोहे का एक माला सुमरन करते हैं तो आप बुरी शक्तियों से दूर रहेंगे। आपके जीवन में सकरात्मक ऊर्जा का संचार होगा।

नासे रोग हरे सब पीड़ा,

जपत निरंतर हनुमत बीड़ा!!

इस दोहे की एक स्फटिक माला जाप से व्यक्ति को बड़ी से बड़ी बीमारी से मुक्ति मिलती है। साथ ही अगर आप इस दोहे का जाप हर मंगलवार को बजरंगबली की प्रतिमा के समक्ष करते हैं तो आप सेहत से संबंधित सभी परेशानियों से दूर रहेंगे।

अष्ट सिद्धि नव निधि के दाता,

अस बर दीन जानकी माता !!

माता जानकी की कृपा से बजरंबली अष्ट सिद्धि और नव निधि के दाता हैं। अतः जो भक्त रोजाना ब्रह्म बेला में इस दोहे का जाप एक माला करता है। उसे बजरंगबली अष्ट सिद्धि और नव निधि का वरदान प्रदान करते हैं।

विद्यावान गुनी अति चातुर,

राम काज करिबे को आतुर!!

इस दोहे के जाप से व्यक्ति को विद्या, बुद्धि और धन की प्राप्ति होती है, क्योंकि धार्मिक ग्रंथों में लिखा है कि जहां बुद्धि होती है वहीं धन भी ठहरता है।

=>
LIVE TV