सैमुअल्स ने शेन वॉर्न पर साधा निशाना

108240-shane-warne-samuals700एजेन्सी/  कोलकाता: वेस्टइंडीज के स्टार बल्लेबाज मार्लन सैमुअल्स ने इंग्लैंड के खिलाफ टी20 विश्व कप फाइनल में अपना मैन ऑफ द मैच पुरस्कार शेन वॉर्न को समर्पित करते हुए ऑस्ट्रेलिया के इस महान स्पिनर पर तंज कसा और कहा कि वह बल्ले से जवाब देते हैं, माइक पर नहीं।

सैमुअल्स ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘मैं आज सुबह जब उठा तो मेरे दिमाग में सिर्फ एक चीज थी। शेन वार्न लगातार बोल रहा था और मैं सिर्फ इतना कहना चाहता था कि शेन वार्न ये तुम्हारे लिए है। मैं बल्ले से जवाब देता हूं, माइक पर नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज (जनवरी 2016 में) खेली और शेन वॉर्न को मुझसे समस्या थी। नहीं पता क्यों। मैंने कभी उनका अपमान नहीं किया। ऐसा लगता था कि उसके अंदर काफी कुछ है जिसे बाहर लाने की जरूरत है।’ 

इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में 66 गेंद में नाबाद 85 रन की पारी खेलने के बाद सैमुअल्स ने कहा, ‘वह जिस तरह से मेरे बारे में बात करता है और जो चीजें करता है मैं उसकी सराहना नहीं करता।’ सैमुअल्स और वॉर्न का विवाद भारत के खिलाफ सेमीफाइनल में दोबारा सामने आया था जब वार्न ने वेस्टइंडीज के इस खिलाड़ी के आउट होने पर कमेंटरी बॉक्स में कुछ टिप्पणी की थी।

इससे पहले 2013 में भी बिग बैश के दौरान ये दोनों आमने-आमने आ गए थे और यह सिलसिला इस साल की शुरूआत में टेस्ट सीरीज तक चला था। सैमुअल्स ने साथ ही चेहरे पर वॉर्न के बोटोक्स लेने पर भी परोछ रूप से निशाना साधते हुए कहा, ‘‘संभवत: मेरा चेहरा असली है और उसका नहीं।’ 

अंतिम ओवर में कालरेस ब्रेथवेट के बेन स्टोक्स पर लगातार 4 छक्के जड़ने से पहले सैमुअल्स की इंग्लैंड के इस तेज गेंदबाज के साथ भी बहस हुई थी। सैमुअल्स ने कहा, ‘मैं उसे कह रहा था कि जब हम एक दूसरे के खिलाफ खेलते हैं तो मेरे से बात नहीं करे क्योंकि मैं प्रदर्शन कर रहा हूं। मुझे पता था कि मुझे जिम्मा संभालना होगा। मैं यही करता हूं, यही कारण है कि इतने उतार चढ़ाव के बावजूद मैं इतने लंबे समय से खेल रहा हूं।’ ब्रेथवेट के अंतिम ओवर में लगातार चार छक्के के संदर्भ में सैमुअल्स ने कहा कि धैर्य बनाए रखना अहम था। 

उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता है कि इसके बारे में बताने के लिए मुझे अधिक शब्द कहने होंगे। हमने कई मौकों पर ऐसा किया है। हमें खुद पर विश्वास है। हमें एक-दूसरे पर विश्वास है। जब अगला खिलाड़ी बल्लेबाजी के लिए जाता है तो हमें विश्वास होता है कि वह हमारे लिए काम कर देगा। हम धैर्य बरकरार रखते हैं। सबसे अहम यह है कि हम किसी भी स्थिति में डरते नहीं हैं।’  सैमुअल्स ने हालांकि खचाखच भरी प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों को हैरान कर दिया जब उन्होंने पैड पहने हुए अपने पैरों को टेबल पर रख दिया और आईसीसी के पैर नीचे करने के आग्रह के बावजूद इसी तरह बात की।

=>
LIVE TV