Thursday , February 23 2017

एक और जवान ने फोड़ा वीडियो बम, बयां की अधिकारियों के जूते तले रहने की दास्‍तान

सेनानई दिल्ली। बीएसएफ और सीआरपीएफ के बाद अब एक नया सेना का जवान सामने आ गया है। यह मामला धीरे-धीरे बेहद संवेदनशील होता जा रहा है। इस वीडियो में जवान ने वो कहानी साझा की है, जिसमें वह एक जवान से मोची बन जाते हैं। मसेना के एक जवान का वीडियो सामने आया है। ये वीडियो भी वायरल हो रहा है। जवान का नाम यज्ञ प्रताप सिंह है और वो 42 ब्रिगेड देहरादून में तैनात था।

यज्ञ प्रताप ने पिछले साल 26 जून को प्रधानमंत्री कार्यालय से सेना के अधिकारियों की शिकायत की थी। जवान का आरोप है कि अधिकारी सैनिकों से घरों में सेवादारी करवाते हैं। ये शिकायत करने के बाद यज्ञ प्रताप को वहां से ट्रांसफर कर दिया गया है।

जवान यज्ञ प्रताप के आरोप पर सेना का बयान आया है। सेना का कहना है कि इतनी बड़ी सेना में कुछ निजी शिकायतें मिलने से इनकार नहीं किया जा सकता। लेकिन इस जवान की शिकायत की जांच जा रही है और उसका समाधान करने की कोशिश की जा रही है। 42 ब्रिगेड की ये एक मात्र शिकायत है।

वीडियो में क्या बोल रहा है जवान यज्ञ प्रताप : ‘मैं यज्ञ प्रताप सिंह इस समय 42 ब्रिगेड देहरादून में तैनात हूं। मेरी सर्विस 15 साल है। मैं 15 जून 2016 को एक एप्लिकेशन लिखा था, जो राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षामंत्री और उच्चतम न्यायालय के पास है। मैंने भारतीय सेना में अधिकारियों द्वारा जवानों के शोषण करने पर एक प्रार्थना पत्र लिखा था। जिसके बाद पीएमओ से हमारे ऑफिस एक लेटर आया था, जिसके बाद ब्रिगेडियर में हड़कंप मच गया और अधिकारियों ने हमारे ऊपर कार्रवाई शुरू कर दी, जबकि मैंने उसमें ऐसा कुछ नहीं लिखा था जो भारतीय सेना के खिलाफ हो।’

‘’मैंने लिखा था कि सेना में ऐसा नहीं होना चाहिए की जो फाइटर लोग हैं वह अधिकारियों की बूट पॉलिश, मेम साहब का काम जैसे रोजाना के काम करे। यह सभी कार्रवाई बंद होनी चाहिए।’’

‘’इस बात को लेकर जब अधिकारियों से प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन लोगों ने मेरे ऊपर दबाव बनाना शुरू कर दिया। अधिकारियों ने मेरे ऊपर अभद्र टिप्पणियां करनी शुरू कर दी। वह मुझे टॉर्चर और परेशान करने लगे। वह लोग मुझे इतना परेशान करने लगे की कोई आम सैनिक होता तो आत्महत्या कर लेता। मैं एक सैनिक हूं।

अपनी वर्दी की इज्जत के लिए न तो मैं सुसाइड करुंगा और न ही किसी के ऊपर गलत प्रयोग करने की कोशिश करूंगा। अगर मैं दुश्मन से लड़ सकता हूं तो मैं कोई ऐसा कदम नहीं उठाउंगा जिससे मेरी वर्दी पर लांछन लगे। आज मुझे चार बजे चार्जशीट या कोर्टमार्शल के लिए बुलाया गया है। हो सकता है मेरा कोर्टमार्शल हो जाए।’’

‘मैं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से निवेदन करता हूं कि मैं एक एप्लिकेशन ही तो लिखा था। ऐसा मैंने क्या गलत कर दिया कि मेरे खिलाफ चार्जशीट या कोर्टमार्शल के लिए कमेटी बैठा दी गई।’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LIVE TV