श्रद्धालुओं का विश्वास, संगम में डुबकी लगाने से नहीं छू पाएगा कोरोना…

REPORTER-सैय्यद आकिब रज़ा

 

 

प्रयागराज- पूरे विश्व में कोरोना वायरस का प्रकोप है और ऐसे में केंद्र सरकार ने इसे अधिसूचित आपदा भी घोषित कर दिया है. देश में 84 संकलित जबकि यूपी के 12 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. योगी सरकार ने 22 मार्च तक सभी स्कूल कॉलेजों को बंद करने के निर्देश दिए हैं. ऐसे में आम जनता में कोरोना वायरस को लेकर भय का माहौल बना हुआ है लेकिन इसी बीच संगम तट पर श्रद्धालुओं का जमावड़ा देखने को मिल रहा है ।

डुबकी

श्रद्धालुओं और वहां के तीर्थ पुरोहितों का मानना है की प्रयागराज सभी तीर्थो का राजा है और यहां संगम  में स्नान करने के बाद  कोरोना वायरस का कोई भी असर नहीं होगा क्योंकि संगम का जल अमृत है. यहां तीन नदियों का संगम है और जो भी व्यक्ति यहां स्नान करता है उन  सभी के पाप धुल जाते हैं ।

‘द कपिल शर्मा शो’ में अक्षय ने किया अवॉर्ड शो को लेकर खुलासा! कहा-आधे पैसे ले लो…

जानकारों का मानना है कि संगम में डुबकी लगाने वाले अगर किसी व्यक्ति को किसी तरह का रोग हो तो वह निरोग होकर के भी जाते हैं ।उधर श्रद्धालुओं का भी कहना है कि संगम में डुबकी लगाने से कोरोना वायरस का कोई भी असर नहीं होगा । ऐसे में संगम तट एक बार फिर गुलजार हो गया है.

 

लोग आस्था की डुबकी के साथ-साथ कोरोना वायरस की भी डुबकी लगा रहे हैं। बांदा, जौनपुर, महोबा से आए कुछ श्रद्धालुओं से जब हमने बात की तो उन्होंने कहा कि वह पिछले कई सालों से संगम में स्नान करने के लिए आते हैं और उनको कोई रोग नहीं होता है. तो उधर तीर्थ पुरोहितों का भी कहना है कि विगत 20 सालों से गंगा स्नान करने के बाद पूजा पाठ कर रहे हैं और इनको कभी भी दवा खाने की जरूरत नहीं महसूस हुई।

 

 

 

=>
LIVE TV