NIA के डिप्टी एसपी को 21 गोली मारी गई हैं उनके शरीर में

बिजनौर. स्योहारा6fd4498f-530d-4026-80a1-94028442ca3bमें एक शादी समारोह में से अपने जन्म स्थान सहसपुर जाते समय रात्रि करीब 1 बजे सहसपुर में गिरधारी रोड़ पर बाइक सवार दो बदमाशों ने इस दर्दनाक घटना को अंजाम दिया जिस से मौके पर ही डीएसपी मौ तंज़ीम की मौत हो गई जबकि पत्नी फ़रज़ाना को मुरादाबाद से दिल्ली रैफर कर दिया गया है । बताया जा रहा है कि मौ तंज़ीम पहले बीएसएफ में कार्यरत थे तथा उन्होंने कुछ समय पहले ही किसी बड़े आतंकी गैंग को पकड़ा था एवं इसी के चलते उन पर नोएडा में हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में भी हमला हुआ था वर्तमान में मौ तंज़ीम ख़ुफ़िया एजेंसी में डीएसपी के पद पर तैनात थे ।

अभी अभी कोतवाली छेत्र के बुढ़ाना चौकी के पास पुलिस ने प्रतिबंघित पशु की खाल से भरा ट्रक पकड़ा ।की जा रही है जाँच पड़ताल।।
 बिजनौर:- के सहसपुर में NIA के डिप्टी एसपी और पत्नी को मारी ताबड़तोड़ गोलिया ,डिप्टी एसपी की मोके पर मौत ,पत्नी की हालत गंभीर दिल्ली रेफर , थाना स्योहारा का मामला ,डीआईजी मुरादाबाद मोके पर पहुंचे, डिप्टी एसपी तनज़ील अहमद । देर रात तनज़ील एहमद अपनी पत्नी के साथ अपनी वैगनआर कार से एक शादी समारोह से वापस आ रहे थे, रास्ते में दो अज्ञात बदमाशो ने उनकी गोली मार कर हत्या कर दी। पठानकोट हमले में जाँच कर रही टीम में थे तनज़ील एहमद, 21 गोली मारी गई हैं उनके शरीर में,
प्रतिबंधित शस्त्र का हुआ है इस्तेमाल,सूत्र।
लखनऊ-NIA DSP तंजीम अहमद की हत्या का मामला,IG ATS असीम अरूण ने संभाली जांच की कमान,असीम घटना स्थल को रवाना
जांच एजेंसी के डीएसपी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. एनआईए के डीएसपी तंजील अहमद बीती रात एक पारिवारिक समारोह से अपनी पत्नी और बच्चों के साथ लौट रहे थे तभी बाइक सवार बदमाशों ने उनकी गाड़ी को रोककर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी.

बीती रात अपनी भांजी की शादी से घर लौटते वक्त रास्ते में एक पुलिस वैन को ओवरटेक करते हुए बाइक सवार बदमाशों ने डीएसपी की गाड़ी पर गोलियां बरसाई जिसमें डीएसपी ने अपना दम तोड़ दिया. जबकि उनकी पत्नी बुरी तरह से घायल हो गई हैं. पुलिस के मुताबिक तंजील अहमद की पत्नी को एक गोली लगी है.

घटना के बाद डीएसपी तंजील के परिवारवालों के मुताबिक डीएसपी पर करीब 23 से 24 राउंड गोलियां चलाई गई. हमले में तंजील की पत्नी बुरी तरह से घायल हुई है जिनका इलाज दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में चल रहाहै. मौका ए वारदात पर मौजूद डीएसपी तंजील अहमद के दोनों बच्चे सुरक्षित हैं. मामले की खबर मिलते ही लखनऊ डीआईजी, एनआईए और एटीएस की टीम बिजनौर पहुंच गई है

 

डीएसपी की हत्या के पीछे गहरी साजिश की संभावना जताई जा रही है.

कौन थे तंजील?
तंजील अहमद, एनआईए के ऑपरेशन की कोर टीम का हिस्सा थे. वो सभी बड़े आतंकवादी वारदातों की जाँच में शामिल रहे हैं जिसमे पठानकोट का हमला भी शामिल है. पाकिस्तान से आई जेआईटी की टीम के साथ बातचीत के दौरान पांच दिन तक कोर टीम के साथ मौजूद थे.  तंजील अहमद के पास पठानकोट के अलावा भारत में आईएस आतंकी संगठन के मॉड्यूल की जाँच, पश्चिम बंगाल के बर्धमान में हुए आतंकी हमले की जाँच और आतंकियों के लिए जाली नोटों की जाँच से जुड़े थे.
“मुरादाबाद अस्पताल पहुंची NIA और ATS की टीम………………
आपको बता दे कि इस अस्पताल में NIA ऑफिसर मोहम्मद तनजील का शव रखा गया है पठानकोट हमले की जांच से जुड़े तनजील की बिजनौर में गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी गई है!

 

=>
LIVE TV