वॉट्सएप को सबक 40 लाख से अधिक मोबाइल पर सिग्नल और टेलीग्राम डाउनलोड हुए

सफाई दिए जाने के बावजूद यूजर्स तेजी से दूसरे प्लेटफॉर्म पर शिफ्ट हो रहे हैं। इसकी पुष्टि दो आंकड़ों से होती है। 6 जनवरी को नई नीति की घोषणा के बाद भारत में 40 लाख से अधिक मोबाइल पर सिग्नल (24 लाख) और टेलीग्राम (16 लाख) एप डाउनलोड हुए हैं। टेलीग्राम ने बुधवार को ऐलान भी किया कि उसने दुनियाभर में 50 करोड़ डाउनलोड का आंकड़ा पार कर लिया है।

पिछले 72 घंटों में ही दुनिया में ढाई करोड़ नए यूजर ने टेलीग्राम डाउनलोड किया है। टेलीग्राम ने भारत संबंधी आंकड़े नहीं बताए, लेकिन सीईओ ने कहा है कि एशिया में सबसे अधिक 38% यूजर बढ़े हैं। डेटा एनालिटिक्स एजेंसी सेंसर टावर के मुताबिक वाॅट्सएप के ऐलान के पहले वाले हफ्ते में 2.5 लाख सिग्नल एप डाउनलोड हुए।

सेंसर टावर व एपटोपिया जैसी एजेंसियों के मुताबिक वाॅट्सएप के डाउनलोड में इसी दौरान 35% की कमी आई है। महिंद्रा कंपनी समूह और टाटाग्रुप के चेयरमैन सहित टॉप एक्जीक्यूटिव, पेटीएम और फोनपे जैसी कंपनियों के सीईओ व स्टाफ ने वाॅट्सएप को अलविदा कह दिया है। बड़ी कंपनियों के चेयरमैन या सीईओ ही नहीं आम लोग भी नए विकल्प चुन रहे हैं। इंटरनेट गवर्नेंस एक्सपर्ट हरीश चौधरी कहते हैं, ‘तमाम छोटे गांवों से खबर मिल रही है कि स्मार्टफोन यूजर टेलीग्राम पर शिफ्ट हो रहे हैं। खतरा देखकर बहुत बड़ा हिंदी आधारित उपभोक्ता वाॅट्सएप छोड़ रहा है।’

वाॅट्सएप पर दो किताबें लिख चुके साइबर लॉ एक्सपर्ट पवन दुग्गल कहते हैं कि वाॅट्सएप में हड़कंप है। इसे अंदरूनी तौर पर क्राइसिस कहा जा रहा है। उसने डेमेज कंट्रोल के लिए सोशल व अन्य मीडिया पर संसाधन झोंक दिए हैं। वैसे नई पॉलिसी का समय ध्यान देने वाला है। केंद्र बजट सत्र में डेटा प्रोटेक्शन बिल लाने वाला है, जिसमें डेटा प्राइवेसी के संरक्षण में सख्त प्रावधान होने वाले थे।

भारत में वॉट्सएप के 40 करोड़ यूजर, आपके डेटा से ही उसकी कमाई
साइबर लॉ एक्सपर्ट पवन दुग्गल कहते हैं कि वाॅट्सएप को इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। उसकी कमाई का सबसे बड़ा जरिया यूजर्स डेटा सेलिंग है। जब उसका यूजर बेस ही घटने लगेगा तो उसकी आय भी प्रभावित होगी और ब्रांड भी।

=>
LIVE TV