विस्फोटक बांधने वाली बेल्ट मिलने से फैली सनसनी

दिल्ली में पकड़े गए आइएसकेपी (इस्लामिक स्टेट ऑफ खुरासान प्रॉविस) के आतंकी मुस्तकीम उर्फ अबू यूसुफ का नेटवर्क खंगालने में दिल्ली पुलिस रात भर जुटी रही। शनिवार रात को उसके घर से भारी मात्रा में विस्फोटक, आत्मघाती बम में प्रयुक्त होने वाले दो जैकेट, विस्फोटक को बांधने वाली बेल्ट, संदूक में आइसआइएस का झंडा, एंपियर मीटर, भारी मात्रा में बारूद, स्टील बॉल (छर्रे), भड़काऊ साहित्य, पत्नी व चार बच्चों के पासपोर्ट बरामद होने से सनसनी फैल गई। रविवार को भी दिल्ली पुलिस व यूपी एटीएस के अधिकारी उतरौला में ही डेरा डाले रहे। मुस्तकीम की निशांदेही पर उतरौला नगर के हाटन व मनकापुर मार्ग स्थित दो साइकिल दुकानदारों से पूछताछ की गई। यहीं से वह छर्रे आदि खरीदता था। मुस्तकीम की पत्नी, पिता, भाई व बच्चों से भी पूछताछ की गई। उतरौला नगर से उठाए गए लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया।

फसल बचाने के नाम पर एकत्र कर रहा था बारूद :

-दिल्ली पुलिस व यूपी एटीएस की हिरासत से छूटे लोगों की मानें तो मुस्तकीम मनिहार की दुकान से फसल को जंगली सूअर से बचाने के लिए लहसुन बम खरीदकर ले जाता था। हर तीसरे दिन वह दस से 15 लहसुन बम खरीदता था। साइकिल व्यापारियों ने बताया कि उनकी दुकान से अक्सर छर्रा व सुलेशन ले जाता था। इसके पीछे उसका क्या मंसूबा है, इसकी जानकारी नहीं हो सकी। क्योंकि वह साइकिल मरम्मत की दुकान होने का हवाला देता था।

घर से प्रेशर कुकर लेकर निकला था आतंकी :

-मुस्तकीम की पत्नी आयशा ने बरामद सामानों की जानकारी देते हुए बताया कि वह टेलीग्राम के माध्यम से कुछ लोगों से जुड़ा हुआ था। शनिवार को पुलिस ने घर से दो जैकेट, बारूद, छर्रा व बोतल में कुछ बरामद किया। बताया कि शुक्रवार को लखनऊ के लिए घर से निकलते समय वह प्रेशर कुकर साथ ले गया था।

=>
LIVE TV