रिपब्लिकन नेशनल कंवेंशन में फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने कोरोना वायरस से प्रभावित परिवारों के प्रति जताई सहानुभूति

मेलानिया ट्रंप ( Melania Trump) ने  कोविड-19 से पीड़ित परिवारों के प्रति सहानूभूति व्यक्त की। उन्होंने कोरोना वायरस को अदृश्य दुश्मन बताते हुए कहा कि इसने अमेरिका को चुनौती दी है लेकिन यहां की जनता एकजुट होकर इसका सामना कर रही है। मंगलवार रात को रिपब्लिकन नेशनल कंवेंशन (Republican National Convention) में अपने संबोधन में फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने कहा कि वो इस तरीके से काम कर रही हैं कि अमेरिकी इस बुरे हालात में एक साथ आ जाए। उन्होंने कहा कि उनके पति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तब तक आराम नहीं करेंगे जब तक इस महामारी के कारण उपजे संकट को जड़ से खत्म न कर दें।

मेलानिया ने मानवीयता की खूबसूरत पहलू पर भी बात की जो उन्होंने इस प्राकृतिक आपदा के कारण उत्पन्न स्थिति में देखा। फर्स्ट लेडी मेलानिया ने कंवेंशन में एक बार फिर डोनाल्ड ट्रंप को राष्ट्रपति बनाने की अपील की और नस्लवाद के मसले पर अपनी चुप्पी तोड़ी। मेलानिया ने कहा कि इस वक्त हमारे देश को मजबूत नेतृत्व की जरूरत है, जो डोनाल्ड ट्रंप दे सकते हैं ताकि अमेरिका को फिर से महान देश बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि मैं भी अमेरिका की एक नागरिक बनना चाहती थी, करीब दस साल के इंतजार के बाद मुझे मौका मिला। 2006 में मैंने टेस्ट दिया और यहां की नागरिकता मुझे मिली।

इन दिनों अमेरिका के विभिन्न हिस्सों में नस्लीय घटनाओं पर फर्स्ट लेडी ने कहा कि यह इतिहास है और हम इसे भूल आगे बढ़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं लोगों से अपील करना चाहती हूं कि लूटपाट बंद करें और हिंसा को रोकें, इससे कुछ नहीं होगा।’ बता दें कि इस साल के नवंबर माह में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होने वाला है। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से उम्मीदवार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को इस बार डेमोक्रेटिक जो बिडेन टक्कर दे रहे हैं।

=>
LIVE TV