Thursday , September 21 2017

राष्ट्रपति चुनाव : अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील

राष्ट्रपति चुनावनई दिल्ली| कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रविवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर यह कहते हुए निशाना साधा कि ‘देश उनके हाथ बंधक नहीं हो सकता जो अपनी संकीर्ण, विभाजनकारी और सांप्रदायिक सोच को थोपना चाहते हैं।’ कांग्रेस अध्यक्ष ने राष्ट्रपति व उप राष्ट्रपति चुनाव में जनप्रतिनिधियों से अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील की।

छत्तीसगढ़ में राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी पूरी, मोबाइल व कलम ले जाने पर लगी रोक

राष्ट्रपति चुनाव की पूर्व संध्या पर कई दलों की एक बैठक में सोनिया ने कहा कि यह चुनाव ‘विचारधाराओं के संघर्ष’ और ‘अलग-अलग मूल्यों के टकराव’ का है और इस संघर्ष को पूरी मजबूती से लड़ा जाना चाहिए।

विपक्ष की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार और उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी बैठक में मौजूद थे। उप राष्ट्रपति का चुनाव पांच अगस्त को होगा। दोनों ही चुनाव गुप्त मतदान से होंगे और निर्वाचक किसी व्हिप से बंधे हुए नहीं हैं।

सोनिया गांधी ने कहा कि अलग-अलग दलों के सांसदों की मौजूदगी बता रही है कि समावेशी, सहिष्णु एवं बहुलवादी भारत के लिए संघर्ष सच में छेड़ा जा चुका है।

राष्ट्रपति व उप राष्ट्रपति चुनाव में भाजपानीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की स्थिति मजबूत होने का आभास करते हुए उन्होंने अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील की।

एमपी का विधानसभा सत्र सोमवार से, हंगामे के आसार

उन्होंने कहा, “इस मुकाबले में हमारी संख्या कम हो सकती है लेकिन हमें लड़ना होगा और पूरी मजबूती से लड़ना होगा। देश उनके हाथ बंधक नहीं हो सकता जो अपनी संकीर्ण, विभाजनकारी और सांप्रदायिक सोच को थोपना चाहते हैं।”

उन्होंने कहा कि मीरा कुमार और गोपालकृष्ण गांधी वे सर्वश्रेष्ठ संभव राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति होंगे जो हमारे समाज को उस संकट से निकाल ले जाने में सक्षम हैं जिसमें आज हमारा देश घिरा हुआ है।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV