राजदेव रंजन के पिता बोले, ‘सब जानते हैं कि मेरे बेटे को किसने मारा’

राजदेव रंजनपटना। बिहार में मृतक पत्रकार राजदेव रंजन के पिता ने रविवार को कहा कि सिवान जिले के लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि मेरे बेटे को किसने मारा और अब उन्हें सिर्फ केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच पर ही भरोसा है। राधाकृष्णन चौधरी ने कहा कि सिवान में अधिकांश लोग इस हत्या के पीछे के उद्देश्य को अच्छी तरह से समझते हैं और वे पूरी तरह से जानते हैं कि इसकी साजिश किसने की।

राजदेव रंजन के पिता चाहते हैं सीबीआई जांच

पेशे से सीमांत किसान चौधरी ने कहा कि उनका स्थानीय पुलिस और राज्य प्रसाशन में कोई विश्वास नहीं रह गया है। वह अपने बेटे की हत्या की सीबीआई जांच चाहते हैं। मृतक पत्रकार राजदेव हिंदी के समाचार पत्र ‘हिन्दुस्तान’ के ब्यूरो चीफ थे। राजदेव की शुक्रवार को सिवान जिले में स्टेशन रोड के पास एक व्यस्त बाजार में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

इस मामले में पुलिस को रविवार सुबह तक कोई कामयाबी नहीं मिली। विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने इस हत्या को बिहार में ‘जंगल राज की वापसी’ करार दिया। सिवान के पुलिस अधीक्षक सौरव कुमार शाह ने कहा कि इस हत्या के संबंध में चार संदिग्धों को हिरासत में लिया गया लेकिन बाद में पूछताछ के बाद दो को रिहा कर दिया गया।

चौधरी ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच से ही पीड़ित परिवार को न्याय मिल सकता है। मृतक के घर में उनकी पत्नी और उनके बेटे के दो छोटे बच्चे हैं। इससे पहले, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी पत्रकार की हत्या की सीबीआई जांच की मांग की थी।

प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई) ने शनिवार को राजदेव रंजन की हत्या के मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया। बिहार और अन्य भागों में मीडियाकर्मी इस हत्या के खिलाफ में अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं।

=>
LIVE TV