रंछाड गांव में शनिवार देर रात यूपी पुलिस के सिपाही ने गृह कलह के चलते कर ली आत्महत्या

 रंछाड गांव में शनिवार देर रात यूपी पुलिस के सिपाही ने गृह कलह के चलते पत्नी की तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी। उसके बाद कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह कई माह से ड्यूटी से गैरहाजिर चल रहा था। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने जांच पड़ताल के बाद शव पोस्टमार्टम को भिजवाए।

रंछाड गांव निवासी 32 वर्षीय सोनू तोमर पुत्र कृष्णपाल सिंह उप्र पुलिस में सिपाही था और उसकी तैनाती सहारनपुर पुलिस लाइन में थी। वह मार्च से ड्यूटी पर नहीं जा रहा था। पुलिस के अनुसार शनिवार रात सोनू और उसकी 28 वर्षीय पत्नी साक्षी मकान के ऊपरी हिस्से में सो रहे थे। कमरे के बाहर चारपाई पर साक्षी के साथ उसकी चार वर्षीय छोटी बेटी इशू सोई थी। रात लगभग 12 बजे सोनू ने तमंचे से साक्षी की कनपटी पर तमंचा सटाकर गोली मार दी। साक्षी की मौके पर ही मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर मकान के निचले हिस्से में बड़ी बेटी अवि के साथ सो रही सोनू की मां संतरेश व पड़ोसी जाग गए। स्वजनों ने वहां जाकर देखा तो साक्षी की लाश पड़ी थी। इसी बीच सोनू कमरे में पहुंचा और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पड़ोसी रविद्र की सूचना पर इंस्पेक्टर रवेंद्र सिंह, सीओ बागपत ओमपाल सिंह व एसडीएम बड़ौत दुर्गेश मिश्र मौके पर पहुंचे। पुलिस ने सोनू के शव को पंखे से नीचे उतरवाया। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त तमंचा कब्जे में ले लिया।

इंस्पेक्टर रवेंद्र सिंह ने बताया कि सहारनपुर में तैनात सिपाही सोनू शराब पीने का आदी हो चुका था। इसी के चलते उसका पत्नी से विवाद रहता था। सोनू ने पहले पत्नी की हत्या की और बाद में आत्महत्या कर ली। जांच की जा रही है। पिता भी पुलिस में थे और उनकी मौत के बाद सोनू को आश्रित कोटे से नौकरी मिली थी। वह घर में इकलौता था। पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजनों को सौंप दिए गए। दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। सोनू के चाचा ने तहरीर दी है।

=>
LIVE TV