योगी सरकार हर महीने देगी इन लोगो को 2000 रुपए इंटरनेट भत्ता…

विभागों, निगमों, उपक्रमों, परिषदों, आयोगों तथा संस्थाओं में तैनात गैर सरकारी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष तथा सलाहकारों को अब हर महीने टेलीफोन अथवा मोबाइल पर ब्राडबैंड व इंटरनेट के लिए दो हजार महीना मिलेगा। यह धनराशि इस तर्क पर स्वीकृत किया गया है कि ताकि सूचनाएं जल्द मिल सकें।

कई अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य तथा सलाहकारों ने सरकार से यह सुविधा दिए जाने की मांग की थी। सरकार ने इनकी मांग पूरी कर दी है। गैर सरकारी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सलाहकारों को आवास तथा कार्यालय पर प्रति टेलीफोन अथवा मोबाइल के लिए अधिकतम दो हजार रुपये प्रतिमाह की प्रतिपूर्ति सुविधा मिलेगी। इस धनराशि में उनके द्वारा ब्राडबैंड तथा इंटरनेट की सुविधा पर किया जाने वाला खर्च भी शामिल होगा। गैर सरकारी सदस्य को आवास पर एक टेलीफोन अथवा मोबाइल के लिए अधिकतम 1250 रुपये प्रतिमाह की प्रतिपूर्ति सुविधा दी गई है। इसमें ब्राडबैंड पर किया जाने वाला खर्च भी शामिल है।

2014 के शासनादेश के मुताबिक गैर सरकारी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष को कार्यालय तथा आवास पर टेलीफोन सुविधा के लिए 25 हजार रुपये तथा सदस्य के लिए अधिकतम 15 हजार रुपये सालाना की व्यवस्था रही है।

=>
LIVE TV