मुंबई समेत महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में लगातार हो रही मूसलधार बारिश, समुद्र तट से दूर रहने की सलाह

राजधानी दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र में तेज बारिश से रात में मौसम का मिजाज बदल गया। दिल्ली में रात में जमकर बारिश हुई। दिल्ली में रात में बिजली चमकने, बादल गरजने के साथ-साथ आंधी भी चली और खूब बारिश भी हुई। मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली में आज पूरे दिन हल्की बारिश जारी रह सकती है। मुंबई समेत महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में लगातार मूसलधार बारिश हो रही है। इससे जगह-जगह जलभराव की समस्या पैदा हो गई है। कई पेड़ उखड़ गए हैं और घरों की दीवारें गिर गई हैं। मुंबई के उपनगरीय इलाकों और उसके पड़ोसी ठाणे में 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है। महाराष्ट्र के अंदरनी इलाकों में भी भारी बारिश हुई है। मौसम विभाग ने मुंबई में 4.63 मीटर ऊंचे हाई टाइड का अनुमान बताया है। बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने लोगों से समुद्र तट से दूर रहने की अपील की है।

मौसम विभाग के मुताबिक राजधानी दिल्ली में अगले तीन-चार दिन ऐसे ही आसमान में बादल छाये रहने और हल्की बारिश होने की उम्मीद है। बारिश होने से दिल्ली में पारा नीचे लुढ़क गया है और मौसम सुहाना हो गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने मध्यरात्रि के आसपास से ही हल्की बारिश की उम्मीद जताई थी।

Weather Update

बिहार में बिजली गिरने से 20 लोगों की मौत, अब तक 130 मरे

बिहार के पांच जिलों में आकाशीय बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में शनिवार को 20 लोग की मौत हो गई। राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त सूचना के अनुसार, राज्य में आकाशीय बिजली गिरने से 20 लोग की मौत हुई है। सबसे ज्यादा भोजपुर में नौ लोगों की की मौत हुई है, वहीं सारण में पांच, कैमूर में तीन, पटना में दो और बक्सर में एक व्यक्ति की मौत हुई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने राज्य के लोगों से सतर्क रहने की अपील की है। राज्य में पिछले 10 दिनों में आकाशीय बिजली गिरने से 130 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। बिहार के कई जिलों में आज भी भारी बारिश का अनुमान बताया जा रहा है।

इन जगहों पर आज बारिश के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक तमिलनाडु, रायलसीमा, आंतरिक कर्नाटक, विदर्भ, मराठवाड़ा, मध्य प्रदेश के शेष भागों, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, शेष गुजरात, उत्तराखंड, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी हिमालय के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। छत्तीसगढ़, दक्षिण और दक्षिण-पश्चिमी मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, पूर्वोत्तर भारत, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। बिहार में भी तेज़ बारिश के आसार है। अगले कुछ घंटों के दौरान मॉनसून की व्यापक सक्रियता उत्तरी कोंकण-गोवा और दक्षिणी गुजरात में दिखेगी जहां मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। दक्षिणी कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक और उत्तरी केरल में भी मध्यम से भारी वर्षा के आसार हैं।

गर्मी से बेहाल था उत्‍तर भारत

उत्तर भारत में खासकर राजस्थान के पश्चिमी इलाके श्रीगंगानगर और बीकानेर इलाके में तापमान 43-45 डिग्री सेंटीग्रेड के बीच था। दिल्‍ली में भी पारा कई बार 42 डिग्री के पार गया। उधर, पंजाब हरियाणा में भी मौसम शुष्क बना हुआ था। मौसम विभाग ने 4-5 जुलाई से मौसम बदलने का अनुमान लगाया था। बारिश की शुरुआत होने पर अगले चार-पांच दिनों तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा, जिससे तापमान में दो से चार डिग्री सेंटीग्रेड तक की गिरावट आ सकती है।

भारी बारिश ने कुछ राज्‍यों में पैदा की मुसीबत

भारी बारिश से लोगों को जहां गर्मी से राहत मिली है। वहीं, कुछ राज्‍यों में इससे बड़ी जनहानि हुई है। बिहार में गुरुवार से लेकर शनिवार के बीच, आसमान से बिजली गिरने (वज्रपात) से 61 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, उत्तर प्रदेश में भी शनिवार को जोरदार बारिश के बीच आसमान से बिजली गिरने से अलग-अलग जिलों में 18 लोगों की मौत हो गई। असम में भी बाढ़ से हालात बेहद खराब हो चले हैं। राज्‍य के 33 में से 21 जिलों के लगभग 15 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। शनिवार तक वहां 33 लोगों की मौत हो चुकी थी। 

असम में बाढ़ से अब तक 61 की मौत

असम के 18 जिले भीषण बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। बाढ़ से और दो लोगों की मौत हो गई है और 10.75 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) ने कहा है कि मोरीगांव और तिनसुकिया जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। राज्य में अब तक बाढ़ से 61 लोगों की मौत हुई है और 24 लोगों की मौत भूस्खलन से हुई है।

=>
LIVE TV