माघ मेले का निरीक्षण करने पहुंचे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, नाराज साधु संतों ने रोका रास्ता

REPORT:-SYED RAZA/PRAYAGRAJ

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या संगम की रेती पर दस जनवरी से आयोजित हो रहे माघ मेले का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे। डिप्टी सीएम संगम नोज पर पहुंचे और उन्होंने गंगा जल हाथ में लेकर आचमन भी किया इसके बाद पक्षियों को दाना भी खिलाया। इस मौके पर डिप्टी सीएम ने कहा 2019 का दिव्य और भव्य कुंभ से पूरी दुनिया में एक अच्छा संदेश गया है।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या

उन्होंने कहा है कि इस बार के माघ मेले में आने वाले साधु संतों और श्रद्धालुओं को भी बेहतर सुविधायें दी जायेंगी। उन्होंने कहा है कि संगम में स्नान पर्वों और पूरे मेले के दौरान भी पर्याप्त जल की उपलब्धता रहेगी। डिप्टी सीएम ने कहा है कि माघ मेले में कई संस्थाओं के भी शिविर लगते हैं जो कि सामाजिक और धार्मिक कार्य भी करते हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार की कोशिश होगी कि मेले में आने वाले साधु संतों और श्रद्धालुओं को कोई परेशानी न हो।

नाराज साधु संतों ने रोका डिप्टी सीएम का रास्ता-

वही डिप्टी सीएम को उस समय असहज स्थिति का सामना करना पड़ा जबकि उनके काफिले को मेला पुलिस लाइन के सामने नाराज श्रद्धालुओं और साधु संतों ने रोक लिया। मेले की अव्यवस्थाओं से नाराज लोगों से डिप्टी सीएम के काफिले को रोककर नारेबाजी शुरु कर दी। डिप्टी सीएम का काफिला बीच रास्ते में रोके जाने से अधिकारियों के भी हाथ पांव फूल गए।

हांलाकि डिप्टी सीएम ने खुद ही मोर्चा संभाल लिया और वे गाड़ी से बाहर निकल आये। उन्होंने नारेबाजी कर रहे लोगों से उनकी समस्या पूछी और उसके समाधान का भी भरोसा दिलाया। दरअसल माघ मेलाधिकारी के कार्यालय के बाहर लगातार तीन दिनों से लगभग एक दर्जन नई संस्थाओं के लोग जमीन और सुविधायें दिये जाने की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

उन्हें जब डिप्टी सीएम के मेले में आने की खबर हुई तो वे प्रशासन की तैयारियों को धता बताते हुए सीधे डिप्टी सीएम के काफिले के सामने आ गए। वहीं डिप्टी सीएम के वैकल्पिक व्यवस्था देने के आश्वासन के बाद लोगों ने काफिले को रास्ता दिया। जिसके बाद डिप्टी सीएम ने अधिकारियों के साथ मेले की तैयारियों का भी जायजा लिया।

सीतापुर में कांग्रेस और सपा पर जमकर बरसे वित्त मंत्री सुरेश खन्ना

डिप्टी सीएम ने कोंग्रेस और विपक्षी पार्टियों पर भी जमकर हमला बोला है। प्रियंका वाड्रा पर हमला बोलते हुए कहा कि वो नौटंकी करती है अगर उनको दर्द होता तो केवल अराजकता करने वालो के प्रति दर्द नही होता बल्कि राजिस्थान में बच्चो की मौत पर उनके आंसू पोंछने चाहिए। कानपुर आईआईटी में फैज की नज़्म गाये जाने के मामले में जांच की बात भी कही है।

वही सपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि सपा वाले तो आतंकी हमले के दोषी विस्फोट के दोषी थे उनके मुकदमे वापस लेने की कोशिश कर रहे थे उनपर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी। नागरिकता संसोधन एक्ट पर विरोधी दल लोगों को गुमराह कर रहा था ,और योगी जी और मोदी जी कैसे बदनाम हो इसकी कोशिश में थे लेकिन उनका ये अभियान फेल हो गया।

=>
LIVE TV