महिला हॉकी : अंतिम मैच में दक्षिण कोरिया से भारतीय टीम को मिली निराशा

जिनचेयोन। भारतीय महिला हॉकी टीम को यहां बुधवार को तीन मैचों की सीरीज के अंतिम मैच में मेजबान दक्षिण कोरिया के खिलाफ 0-4 से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी।

इससे पहले, दो मैचों में भारत ने दमदार प्रदर्शन करते हुए जीत दर्ज की थी। इस तरह भारत ने 2-1 से यह सीरीज अपने नाम की।

मेजबान टीम पहले क्वार्टर से ही लय में नजर आई और भारत के डिफेंस पर दबाव बनाए रखा। हालांकि, दक्षिण कोरिया को सफलता दूसरे क्वार्टर में मिली।

मैच के 29वें मिनट में भारत के खिलाड़ी ने डी में फाउल किया जिसके कारण दक्षिण कोरिया को पेनाल्टी मिली जिसे गोल में बदलकर मेजबान टीम 1-0 से आगे हो गई।

तीसरे क्वार्टर में भी भारत को राहत नहीं मिली और उसे लगातार दक्षिण कोरिया के अटैक का सामना करना पड़ा।

मैच के 41वें मिनट मेजबान टीम ने एक के बाद एक दो गोल दागे और भारत की वापसी के सारे रास्ते बंद कर दिए। दक्षिण कोरिया के लिए यह दोनों गोल किम हायून्जी और कांग जिना ने दागे।

ली यूरी ने हार मान चुकी मेहमान टीम के विरुद्ध 53वें मिनट में गोल किया।

भारत के कोच शुअर्ड मरेन ने कहा, “सीखने की प्रक्रिया उतार-चढ़ाव भरी होती है और आज हमें ऐसा कि एक अनुभव हुआ जिसमें हम शुरुआत में गोल खा गए और फिर उससे उबर नहीं पाए। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हम अपने इस अनुभव से सीख नहीं पाएंगे।”

‘बीजेपी के जीत की सबसे बड़ी वजह है मोदी का मजबूत गृह राज्य’

दक्षिण कोरिया के खिलाफ मैदान पर उतरी लालरेमसिआमी ने भारत के लिए 50वां मैच खेला।

=>
LIVE TV