Wednesday , September 20 2017

ममता बनर्जी भी बनी मोदी भक्त, गा रहीं ‘भगवा’ लीला

ममता बनर्जीपश्चिम बंगाल। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सुर बदले हुए नजर आ रहे हैं। नोटबंदी, जीएसटी जैसे मामलों पर पीएम मोदी के खिलाफ सख्त बयानबाजी करने वाली ममता के सुर बदलते दिखाई दे रहे हैं। ममता बनर्जी ने यहां तक कह डाला है कि वह पीएम मोदी के पक्ष में हैं, लेकिन अमित शाह के नहीं। ममता बनर्जी के स्टैंड में इस शिफ्ट को बीजेपी जहां मोदी की नीतियों की स्वीकार्यता के रूप में ले रही है, वहीं विपक्ष के लिए यह चौंकाऊ है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक प्राइवेट चैनल के साथ इंटरव्यू में ये बातें कहीं हैं। ममता ने कहा, ‘मैं पीएम मोदी का फेवर करती हूं, शाह का नहीं। मैं पीएम को दोष नहीं देती हूं। मुझे उन्हें दोष क्यों देना चाहिए? उनकी पार्टी को इसका ध्यान रखना चाहिए।’

यह भी पढ़ें : मुजफ्फरनगर रेल हादसा: मृतकों की संख्या हुई 23, करीब 100 जख्मी

ममता ने इस बात पर आपत्ति जताई कि ‘देश में सुप्रीम तानाशाही का वातावरण है, जिसमें एक पार्टी अध्यक्ष सरकारी मामलों में दखल कर रहे हैं।’ जाहिर तौर पर ममता के निशाने पर मोदी नहीं बल्कि शाह रहे।

ममता बनर्जी ने लगे हाथ पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तारीफ भी की। ममता ने कहा, ‘वह भी बीजेपी के ही हैं, लेकिन वह बहुत ही संतुलित (प्रधान मंत्री के रूप में) और निष्पक्ष थे। हमने उनके नेतृत्व में काम किया और कभी किसी समस्या का सामना नहीं किया।’ मौजूदा एनडीए सरकार का जिक्र करते हुए उन्होंने सभी समस्याओं के लिए पीएम को नहीं बल्कि बीजेपी को दोषी ठहराया।

यह भी पढ़ें : मोदी सरकार बनने के बाद से अब तक 27 रेल हादसे, 259 मौतें

पश्चिम बंगाल की सीएम ने कहा, ‘विपक्षी पार्टियां एक मंच पर आ गई हैं और 2019 में केंद्र में बदलाव आएगा। हम बदलाव की प्रतीक्षा कर रहे हैं। अभी तक कोई भी मोर्चा नहीं बनाया गया है, लेकिन विपक्षी दलों ने एक मंच पर आकर काम शुरू कर दिया है। छह महीने तक प्रतीक्षा करें, चीजें स्पष्ट हो जाएंगी’ ममता ने ‘राइजिंग बंगाल 2017’ कार्यक्रम के दौरान ये बातें कहीं।

 

=>
LIVE TV