भेदभाव और रात में काम की वजह से जॉब छोड़ना चाहती हैं महिलाएं: सर्वे

एजेंसी/105718-officeharassment-700नई दिल्ली : निजी क्षेत्र में काम करने वाली 25 प्रतिशत महिलाएं अपने पुरुष सहकर्मियों की तुलना में भेदभाव तथा देर रात तक काम जैसे कई कारणों से नौकरी छोड़ना चाहती हैं। उद्योग मंडल एसोचैम के एक सर्वेक्षण के अनुसार इसके अलावा महिलाएं सुरक्षा, कार्यस्थल पर शोषण जैसी वजहों से भी नौकरी छोड़ना चाहती हैं।

सर्वेक्षण में कहा गया है कि भेदभाव और काम के असुविधाजनक घंटे वे प्रमुख कारण हैं जिनकी वजह से निजी क्षेत्र में कार्यरत महिलाएं नौकरी छोड़ना चाहती हैं। सर्वेक्षण में शामिल 500 महिलाओं में से ज्यादातर का कहना था कि उनके संगठन में एक उचित शिकायत निपटान व्यवस्था नहीं है और साथ ही महिलाओं को कार्यस्थल पर सुरक्षा के संबंध में कानूनी जरूरतों को पूरा नहीं किया जाता है। 

करीब 25 प्रतिशत महिलाओं ने इन वजहों से नौकरी छोड़ने की इच्छा जताई। वहीं 40 प्रतिशत महिलाएं ऐसी थीं, जो अपने बच्चों के लालन-पोषण के लिए नौकरी छोड़ना चाहती हैं। करीब 30 प्रतिशत महिलाओं ने कहा कि उन्हें कार्यस्थल पर शोषण झेलना पड़ा है। उन्हें पदोन्नति से वंचित किया गया और नीरस काम सौंपा गया।

=>
LIVE TV