भारत की ओर पाकिस्तान ने फिर बढ़ाया वार्ता का हाथ

indo-pak_571080cdb6f30इस्लामाबाद : पाकिस्तान और भारत के बीच पठानकोट स्थित एयरबेस स्टेशन पर हुए हमले को लेकर भले ही बात नहीं बनी हो लेकिन अब पाकिस्तान भारत के साथ सहयोग का रवैया अपना रहा है। दरअसल पाकिस्तान और भारत के बीच वार्ता प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के प्रयास हो रहे हैं। पाकिस्तान और भारत में से किसी भी देश को इस आॅप्शन को बंद करने के बारे में विचार नहीं करना चाहिए।

इस तरह का बयान दिया जाना बहुत महत्वपूर्ण है। सप्ताहभर पहले नई दिल्ली में पाकिस्तानी हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने यह भी कहा कि दोनों ही देशों के बीच पीस टाॅक फिलहाल सस्पेंडेंड हैं। दरअसल नफीस जकारिया ने बयान देते हुए कहा है कि बाइलेट्रल टाॅक पीस प्रोसेस भारत और पाकिस्तान के बीच की वर्तमान स्थिति को दर्शाता है इस पर विचार करना होगा।

इस तरह की संभावनाओं पर भी विचार किया गया कि दोनों ही देश विदेश सचिव स्तर की वार्ता को जारी रख सकते हैं। उल्लेखनीय है कि दोनों ही देशों के बीच चर्चा जनवरी माह में आयोजित की गई थी मगर जैश – ए – मोहम्मद के आतंकी हमले के बाद चर्चा टल गई। इसके बाद भारत और पाकिस्तान पठानकोट हमले की जांच में जुट गए।

पाकिस्तान में पहले सहयोगात्मक रवैया दिखाया मगर बाद में जब उसका संयुक्त जांच दल भारत आया तो रिपोर्ट प्रस्तुत करने में वह भारत के मत से अलग मत दर्शाने लगा। हालांकि आतंकी हमला होने प्राकृतिक आपदा आने के समय दोनों ही देशों के प्रधानमंत्री एक दूसरे से चर्चा करते हैं लेकिन फिर भी भारत को पठानकोट हमले की जांच से बड़ी निराशा लगी है। मगर अब पाकिस्तान द्वारा फिर से भारत को लेकर किया जाने वाला सकारात्मक प्रयास दर्शाता है कि दोनों ही देशों के रिश्ते फिर बेहतर हो सकते हैं। 

=>
LIVE TV