बिहार: चमकी बुखार और लू का कहर एक साथ जारी, लू लगने से हुई 18 वर्षीय युवक की मौत !

बिहार की राजधानी पटना में लू की वजह से एक 18 वर्षीय युवक की मौत हो गई है. पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती युवक भक्तियारपुर का रहने वाला है. बिहार इन दिनों चमकी बुखार और लू की दोहरी मार झेल रहा है.

बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक अब तक बिहार में लू की चपेट में आने से कुल 101 मौतें हुई हैं. औरंगाबाद में 48, गया में 39 और नवादा में 14 लोगों की मौत लू लगने की वजह से हुई है. ये आंकड़े 15 जून से 21 जून के बीच के हैं.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इससे पहले लू से प्रभावित मरीजों से मुलाकात भी कर चुके हैं. लू से बचाव के लिए बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने एडवाइजरी भी जारी की है. एडवाइजरी में धूप से परहेज करने की बात कही गई है.

 

शिवराज सिंह चौहान ने प्रबल पटेल की गिरफ़्तारी पर जताई आपत्ति ! कहा ये …

 

चमकी बुखार का कहर

बिहार में इस बार बिमारियों का प्रकोप ज्यादा ही है. राज्य सरकार और केंद्र सकार दोनों को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. बिहार में चमकी बुखार से होने वाली मौतों का आंकड़ा बढ़कर अब 147 हो गया है.

चमकी बुखार से बच्चों की लगातार मौत हो रही है. इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला मुजफ्फरपुर है, जहां अकेले श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) में अब तक 128 बच्चों की मौत हो चुकी है.

एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) को दिमागी बुखार और चमकी बुखार के नाम से भी जाना जाता है.

 

=>
LIVE TV