बिग बैंग के बाद ब्रम्हांड में दूसरी सबसे बड़ी घटना, पृथ्वीवासियों पर मंडरा रहा संकट

सिडनी| खगोलविदों ने एक खगोलीय घटना की संभावना जताई है, जिसमें गामा किरणों का विस्फोट करने की क्षमता है। यह घटना बिग बैंग के बाद दूसरी सबसे बड़ी घटना है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने मंगलवार को यहां प्रकाशित शोध के हवाले बताया, वैज्ञानिकों ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपनी आकाशगंगा में यहां से 8,000 प्रकाशवर्ष दूर ऐसे पहले दुर्लभ संयोग को पहचाना है।

खगोलविदों ने एक खगोलीय घटना

वैज्ञानिकों ने कहा कि इस तरह एक तारे से गामा किरण के विस्फोट में पृथ्वी से ओजोन की परत हटाने की क्षमता होती है, लेकिन किस्मत से यह हमसे बहुत दूर है।

नीदरलैंड्स इंस्टीट्यूट फॉर रेडियो एस्ट्रोनॉमी के मुख्य शोधकर्ता जो कैलिंघम ने कहा, “हमें तुरंत पता चल गया था कि हमने कुछ असाधारण घटना देखी है। रेडियो से इंफ्रारेड तक स्पेक्ट्रम के चारों तरफ चमक चार्ट से बाहर थी।”

इस घटना को एपेप उपनाम दिया गया है। एपेप के तारों में से दो तारे वोल्फ-रायेट श्रेणी के हैं जिसका मतलब वे विशाल और अपने अंत के करीब हैं।

ये तारे किसी भी समय सुपरनोवा में बदल सकते हैं, जिससे प्रलयकारी गामा किरण विस्फोट हो सकता है।

दिल्ली सचिवालय में CM केजरीवाल पर फेंकी गयी लाल मिर्च, आरोपी की हुई पहचान

न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी के सह-शोधकर्ता बेंजामिन पोप ने कहा, “त्वरित चक्करों ने एपेप को एक संपूर्ण नई कक्षा में कर दिया है।”

बेंजामिन ने कहा, “सामान्य सुपरनोवा पहले से ही शक्तिशाली होते हैं, लेकिन इसमें और परिक्रमण (रोटेशन) जुड़ना आग में पेट्रोल लगने की तरह है।”

=>
LIVE TV