Monday , June 26 2017

फिटकरी रखेगी फिट, ये खासियतें कर देंगी बड़ी मुश्किलों को आसान

फिटकरी के उपयोगयूं तो आमतौर पर घरों में फिटकरी के उपयोग किए जाते हैं। रोजाना शेविंग करने वाले युवक तो इसका इस्तेमाल प्रतिदिन ही करते रहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह फिटकरी आपकी कई परेशानियों का समाधान कर सकती है। जी हाँ फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। फिटकरी दो तरह की होती है, लाल और सफेद लेकिन ज्यादातर घरों में सफेद फिटकरी का ही इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद में भी इसके कई फायदों का उल्लेख किया गया है। ऐसा माना जाता है कि फिटकरी के उपयोग से 23 तरह की समस्याओं को दूर किया जा सकता है।

फिटकरी के उपयोग से घरेलू उपचार

चोट लग जाने पर 
अगर आपको कोई चोट लग गई हो या फिर घाव हो गया हो और उससे लगातार खून आ रहा हो तो फिटकरी के पानी से घाव को धो लें। इससे खून बहना बंद हो जाएगा। फिटकरी के पानी की जगह आप फिटकरी को महीन पीसकर भी प्रयोग में ला सकते हैं।

चेहरे की झुर्रियों को दूर करने में मददगार 
अगर आपके चेहरे पर भी झुर्रियां आ गई हैं तो फिटकरी के पानी का इस्तेमाल करना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। आप चाहें तो फिटकरी के एक बड़े टुकड़े को पानी में डुबोकर चेहरे पर हल्के हाथों से मलें। कुछ देर बाद साफ पानी से चेहरा धो लें।

सिर की गंदगी और जुंओं को मारने का घरेलू उपाय 
अगर आपके सिर में जुंएं पड़ गई हैं तो फिटकरी के पानी से बाल धोना फायदेमंद रहेगा। इसके एंटी-बैक्टीरियल गुण के चलते जुंएं मर जाते हैं और सिर की दूसरी गंदगी भी धुल जाती है।

यूरीन इंफेक्शन होने पर 
यूरीन इंफेक्शन हो जाने पर भी फिटकरी का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। प्रतिदिन फिटकरी के पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करने से इंफेक्शन का खतरा दूर हो जाता है। इसके अलावा पानी में घुलनशील अशुद्धि को दूर करने के लिए भी फिटकरी का इस्तेमाल किया जाता है।

पसीने की बदबू दूर करने के लिए 
अगर आपको भी बहुत पसीना आता है और आपके पसीने से बदबू भी आती है तो फिटकरी का इस्तेमाल आपके लिए खासतौर पर फायदेमंद रहेगा। फिटकरी का एक महीन चूर्ण बना लें। नहाने से पहले फिटकरी के इस चूर्ण की कुछ मात्रा पानी में डाल दें। इस पानी से नहाने से आपकी ये समस्या दूर हो जाएगी।

दांतों की समस्या का कारगर समाधान
फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है। दांत में दर्द और मुंह की बदबू को दूर करने के लिए भी फिटकरी का इस्तेमाल किया जाता है। ये एक नेचुरल माउथवॉश है। दांत दर्द होने पर फिटकरी के पानी से गार्गल करना फायदेमंद रहता है।

दमा, खांसी और बलगम की समस्या का समाधान 
अगर आपको दमा की शि‍कायत है तो फिटकरी आपकी इस समस्या का रामबाण इलाज है। फिटकरी के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर चाटने से दमा और खांसी में फायदा होता है।

LIVE TV