प्रेमिका ने रूठकर दी जान, पैसे कमाने दूसरे शहर गया प्रेमी

ludhiana-suicide_landscape_1457367851एजेन्सी/लखनऊ के चिनहट क्षेत्र में एक युवती ने मंगलवार शाम प्रेमी को मजदूरी करने चंडीगढ़ जाते देख साथ चलने की जिद की। प्रेमी जल्द लौटने की बात कहकर चला गया। आहत युवती ने जहर खाकर जान दे दी। 

पिता ने प्रेमी पर खुदकुशी के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई। युवती की मौत का पता चलते ही प्रेमी रास्ते से लौटा और पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। 

एसओ चिनहट सुरेश कुमार यादव ने बताया कि गांव खाले दवरिया निवासी नौमीलाल निषाद की बेटी प्रियंका उर्फ पिंकी (18) ने मंगलवार रात 8:30 बजे जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर परिवारीजन उसे अस्पताल ले जा रहे थे। इस बीच उसकी मौत हो गई। 

नौमीलाल ने गांव के ही वीरेंद्र निषाद पर अपनी बेटी को खुदकुशी के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई। उसने कहा कि वीरेंद्र और प्रियंका में दोस्ती थी। वीरेंद्र उस पर घर छोड़कर भाग चलने का दबाव बना रहा था। 

इससे आहत होकर प्रियंका ने खुदकुशी कर ली। पुलिस ने मौके पर जाकर तहकीकात की। पता चला कि प्रियंका और वीरेंद्र के बीच प्रेमप्रसंग था। दोनों के घरवालों और आसपास के लोगों को जानकारी थी।सजातीय और समान हैसियत के होने के नाते दोनों के रिश्ते पर सहमति बनी थी और शादी का ख्वाब देख रहे थे। नौमीलाल मछली पकड़ने का काम करता है और वीरेंद्र एक कैटर्स के यहां मजदूरी करता था। 

काम के सिलसिले में कैटर्स ने वेटर व खाना पकाने वालों को मंगलवार शाम चंडीगढ़ चलने को कहा। वीरेंद्र ने प्रियंका को जानकारी दी और अपना सामान बांधने लगा। 

प्रियंका ने उसे कई दिन के लिए बाहर जाने से मना किया। न मानते देख साथ चलने की जिद करने लगी। वीरेंद्र ने जल्द लौटने के वादे के साथ अपनी मजबूरी बताई। रूठी प्रियंका अपने घर लौट गई और वीरेंद्र स्टेशन चला गया।

=>
LIVE TV