प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली हाई कोर्ट में की रॉबर्ट वाड्रा की बेल रद्द करने की मांग !…

मनी लॉन्ड्रिंग केस में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली हाई कोर्ट में रॉबर्ट वाड्रा को मिली बेल को रद्द करने की मांग की है.

दिल्ली हाई कोर्ट में ईडी ने मांग की है कि उन्हें रॉबर्ट वाड्रा की कस्टडी दी जाए, ताकि वह उनसे पूछताछ कर पाएं. वाड्रा को निचली अदालत से जमानत मिल गई है, लेकिन ईडी इस फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट पहुंच गई है.

बीते दिनों ही रॉबर्ट वाड्रा ने सीबीआई कोर्ट में विदेश जाने की अनुमति मांगी थी. रॉबर्ट वाड्रा के वकील की तरफ से मांग की गई थी कि उन्हें विदेश जाने दिया जाए, साथ ही इस आदेश को गोपनीय रखा जाए.

 

बछेंद्री पाल का छलका दर्द, सुनाई अपनी वो कहानी जिसे वो कभी बताना नहीं चाहती थीं…

 

मनी लॉन्ड्रिंग केस में रॉबर्ट वाड्रा को दिल्ली की एक विशेष अदालत ने सशर्त जमानत दे रखी है. इन्हीं शर्तों में उनके विदेश जाने पर रोक भी शामिल है. वाड्रा का पासपोर्ट भी अदालत के पास ही है. पिछले महीनों में मनी लॉन्ड्रिंग केस में वाड्रा से ईडी कई बार पूछताछ कर चुका है.

आपको बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा पर ब्रिटेन में कई संपत्तियां गलत तरीके से हासिल करने का आरोप है. ईडी की ओर से आरोप लगाया गया है कि ये संपत्ति उन्होंने मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए हासिल की है. इस मामले में रॉबर्ट वाड्रा के अलावा भगोड़े हथियार कारोबारी संजय भंडारी का भी नाम शामिल है.

रॉबर्ट वाड्रा को जिन शर्तों के आधार पर जमानत मिली है, उसमें विदेश ना जाना. सबूतों से छेड़छाड़ ना करना, जब भी प्रवर्तन निदेशालय बुलाए तो जांच में सहयोग करने के लिए एजेंसी के पास आना शामिल है.

 

=>
LIVE TV