प्रयागराज की पुलिस अब चोरों के गैंग पर भी गैंगस्‍टर के तहत कर रही कार्रवाई

पहले शातिर बदमाशों पर ही गैंगस्टर की कार्रवाई की जाती थी, लेकिन अब इसमें कुछ परिवर्तन किया गया है। शातिर बदमाशों के साथ ही चोरों के गिरोह पर भी गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की जा रही है। साथ ही ऐसे नकल माफिया पर भी गैंगस्टर लग रहा है। हालांकि, इसमें संख्या भी देखी जा रही है। गैंग में चार से अधिक सदस्यों के होने पर ही ये कार्रवाई की जा रही है।

शिवकुटी, कैंट पुलिस ने की है कार्रवाई

कुछ माह पहले शिवकुटी में प्रतियोगी परीक्षाओं में रुपये लेकर नकल कराने वाले गिरोह का राजफाश किया गया था। पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। इसमें सभी दूसरे जनपदों के रहने वाले थे और शिवकुटी क्षेत्र में किराए पर रहते थे। सप्ताह भर पहले पुलिस ने इन पर गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की है। इसी प्रकार कैंट पुलिस ने अशोक नगर में एक व्यवसायी के घर एक करोड़ से अधिक की चोरी के मामले में छह बदमाशों को पकड़ा था। इनके खिलाफ दो दिन पहले गैंगस्टर लगाया गया है। पुलिस का कहना है कि ये संगठित गिरोह था, जिस कारण गैंगस्टर लगाया गया है।

वारदातों पर लगेगा अंकुश

सख्त कार्रवाई के पीछे जो मकसद है वह यह कि इससे वारदातों पर अंकुश लगेगा। गैंगस्टर की कार्रवाई से बचने के लिए बदमाश अपराध करने से हिचकिचाएंगे। पुलिस का मानना है कि गैंगस्टर लगने के बाद अपराधियों को जमानत मिलने में परेशानी खड़ी हो जाती है।

बोले, एसपी सिटी

एसपी सिटी दिनेश सिंह का कहना है कि अपराधियों पर अभी गैंगस्टर ही लग रहा है, लेकिन आने वाले दिनों में इन पर और कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अपराध पर अंकुश लगाने के लिए हर जरूरी कदम उठाए जाएंगे।

=>
LIVE TV