पूूूूर्वांचल खासकर गोरखपुर में हाल के दिनों में ISI की सक्रियता को देखते हुए नेपाल सीमा पर किया हाई अलर्ट

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के लिए गोरखपुर के हनीफ उर्फ आरिफ के जासूसी करने का मामला सामने आने और आतंकी गतिविधियों में लिप्त बलरामपुर जिले के मुस्तकीम उर्फ युसूफ की दिल्ली में गिरफ्तारी होने के बाद जोन पुलिस सतर्क हो गई। एडीजी दावा शेरपा ने चौकसी बढ़ाने का निर्देश दिया है। खासकर नेपाल से लगने वाले सीमाई इलाकों में निगरानी तेज करने को कहा है। स्थानीय अभिसूचना इकाई (एलआइयू) को संवेदनशील इलाकों में सक्रिय रहकर संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने की हिदायत दी गई है।

गोरखपुर में पकड़ा गया है ISI का जासूस

कोतवाली इलाके के जाफरा बाजार निवासी हनीफ उर्फ आरिफ को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के लिए जासूसी करने के आरोप में एटीएस ने हिरासत में लिया था। पूछताछ में उसने एयरफोर्स स्टेशन, जीआरडी कैंप और रेलवे स्टेशन की फोटो तथा उससे जुड़ी कुछ सूचनाएं पाकिस्तानी आका को भेजने की बात कबूल की है। दो दिन तक चली पूछताछ के बाद कोई ठोस सबूत हाथ न लगने की वजह से एटीएस ने उसे छोड़ दिया है। हालांकि उस पर नजर रखने के साथ ही एटीएस, जासूसी नेटवर्क से जुड़े दूसरे लोगों के बारे में भी पता लगाने में जुटी है। इससे पहले आतंकी गतिविधियों में लिप्त बलरामपुर जिले के बढय़ा भैंसाई निवासी मुस्तकीम उर्फ युसूफ खान को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बाद में पुलिस ने बढय़ा भैंसाई स्थित उसके घर की तलाशी लेकर काफी मात्रा में विस्फोटक और मानव बम बनाने में इस्तेमाल होने वाली विशेष जैकेट भी बरामद की। युसूफ को लखनऊ लाकर पूछताछ की जा रही है। इन दोनों मामलों को देखते हुए एडीजी ने जोन पुलिस को सतर्क किया है।

यूपी के इन जिलों में विशेष सतर्कता

इन दोनों मामलों के सामने आने के बाद एडीजी ने जोन के सभी जिलों की पुलिस को सतर्कता बढ़ाने का निर्देश दिया है। जोन के छह जिलों कुशीनगर, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती की सीमा नेपाल से लगती है। इन जिलों की पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने की हिदायत दी गई है। सीमावर्ती जिलों की पुलिस को एडीजी ने सीमा पर तैनात एसएसबी से तालमेल स्थापित कर संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने को कहा है।

एडीजी जोन दावा शेरपा ने कहा कि हनीफ और युसूफ का मामला सामने आने के बाद जोन पुलिस अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखी जा रही हे। खासकर सीमाई इलाकों में अधिक चौकसी बरती जा रही है। 

=>
LIVE TV