गुरूवार , जून 21 2018

पीएनबी घोटाला : कांग्रेस का केंद्र पर बड़ा हमला, चर्चा से बचने के लिए बहाने खोज रही है मोदी सरकार

नई दिल्ली। कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार पंजाब नेशनल बैंक घोटाले पर चर्चा से बचने के लिए संसद में विभिन्न मुद्दों पर प्रदर्शन करवाकर लोकतंत्र की हत्या कर रही है। लोकसभा में पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने संवैधानिक संशोधन, तेलुगू देशम पार्टी की आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग, तमिलनाडु द्वारा कावेरी प्रबंधन बोर्ड की स्थापना की मांग की ओर इशारा करते हुए कहा, “ये सभी सरकार प्रायोजित प्रदर्शन हैं जिनका उद्देश्य सदन को स्थगित करना है।”

पीएनबी घोटालाउन्होंने पत्रकारों से कहा, “वे लोग नीरव मोदी और पीएनबी घोटाले पर चर्चा से बचने के लिए बहाने खोज रहे हैं।”

खड़गे ने कहा कि जब से संसद का सत्र शुरू हुआ है, हम लोग स्थगन प्रस्ताव के जरिए संसद में इस मुद्दे को उठाना चाह रहे हैं, लेकिन प्रतिदिन नोटिस देने व अध्यक्ष से मिलने के बावजूद सरकार हमारी मांग को अस्वीकार कर रही है क्योंकि सरकार लोगों की नजरों से इस घोटाले को दूर रखना चाहती है।

यह भी पढ़ें :-मिशन 2019 : चक्रव्यूह तोड़ने को मास्टर प्लान तैयार! भाजपा के पैतरे पर कांग्रेस काटेगी मोदी लहर?

उन्होंने कहा कि सरकार सामान्यत: पीठासीन अधिकारी के आसन के समक्ष विपक्षी नेताओं के प्रदर्शन के बावजूद विधेयक और मांग पारित कराती रही है लेकिन अभी पिछले कुछ दिनों में उसके गठबंधन साथियों की ओर से प्रदर्शन के दो मिनट के बाद ही सदन को स्थगित कर दिया जाता है।

उन्होंने कहा, “यह संसदीय कार्य मंत्री का कार्य है कि वह सदन को चलाएं। यहां तक कि प्रधानमंत्री भी चुप हैं।”

यह भी पढ़ें :-4 साल के ‘बाबू’ ने किया वो कारनामा जिसके लिए तरसते हैं पुलिस वाले

खड़गे ने कहा कि पार्टी ने समाजिक न्याय, किसान, रेलवे, सड़क एवं यातायात, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और युवा मामलों के लिए चर्चा करने की मांग की थी, लेकिन उन लोगों को समय नहीं दिया गया।

उन्होंने कहा, “हम चर्चा के लिए समय चाहते हैं, लेकिन सरकार निश्चित ही ऐसा नहीं चाहती है और इससे भाग रही है। यह लोकतंत्र समाप्त करने का प्रयास है।”

=>
LIVE TV