सबमरीन बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च कर नार्थ कोरिया ने US को दी चेतावनी

l_north-korea-missile-launch-1461473612एजेंसी/ सोल।

दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तट से पनडुब्बी से दागी जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का प्रक्षेपण किया है। दक्षिण कोरिया की सेना के ज्वाइंट चीफ आफ स्टाफ के कार्यालय ने बताया कि उत्तर कोरिया ने अपने उत्तर पूर्वी तट से मिसाइल का प्रक्षेपण स्थानीय समय के अनुसार साढ़े छह बजे किया। माना जा रहा है कि ये पनडुब्बी से दागे जाने वाला बैलिस्टिक मिसाइल था।

अगले महीने नॉर्थ कोरियन वर्कर्स पार्टी कांग्रेस का आयोजन

उत्तर कोरिया द्वारा पनडुब्बी से दागी जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का प्रक्षेपण करने की खबर ऐसे समय पर आया है जब उत्तर कोरिया में अगले महीने नॉर्थ कोरियन वर्कर्स पार्टी कांग्रेस का आयोजन होना है। कांग्रेस का आयोजन 36 साल बाद हो रहा है। उत्तर कोरिया अब तक चार परमाणु परीक्षण कर चुका है। इनमें से पहला परीक्षण 2006 में जबकि आखिरी इस साल जनवरी में किया गया।

पनडुब्बी से 30Km तक गई मिसाइल 

दक्षिण कोरिया की सेना का कहना है कि वह उत्तर कोरिया की सेना पर करीबी नजर रखे हुये हैं। हालांकि अभी यह मालूम नहीं हो पाया है कि प्रक्षेपण सफल रहा या नहीं। सेना के प्रवक्ता ने कहा कि मिसाइल 30 किलोमीटर तक गई, लेकिन लगता है कि यह परीक्षण विफल हो गया होगा। उत्तर कोरिया पनडुब्बी से दागी जाने वाली मिसाइल की क्षमता हासिल करने के लिए प्रयास करता रहा है। उसने कांग्रेस से कुछ दिन पहले भी ऐसे यह प्रक्षेपण किये हैं। अगर उत्तर कोरिया परीक्षण करने की क्षमता हासिल कर लेता है तो इससे परमाणु खतरा काफी बढ़ जाएगा।

अमेरिका की चेतावनी

उधर, अमेरिका ने इस प्रक्षेपण के लिये उत्तर कोरिया को चेतावनी देते हुये कहा है कि यह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का स्पष्ट उल्लंघन है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने एक बयान में कहा, ‘हम उत्तर कोरिया की गतिविधियों एवं कोरियाई प्रायद्वीप पर हालात पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं। हम उत्तर कोरिया से यह अनुरोध करते है कि वह ऐसे कदम उठाने से परहेज करे जिससे क्षेत्र अस्थिर होता हो।’

‘बड़ी सफलता’ है पनडुब्बी मिसाइल परीक्षण 

उत्तर कोरिया ने पनडुब्बी बैलिस्टिक मिसाइल के परीक्षण की पुष्टि करते हुए इसे’बडी सफलता’ करार दिया। उत्तर कोरिया की सरकारी संवाद समिति केसीएन ने कहा कि उनके नेता किम जोंग उन की देखरेख में पनडुब्बी बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया जिससे देश को शक्तिशाली परमाणु हमला करने का एक और हथियार मिल गया है। हालांकि उन्होंने यह खुलासा नहीं किया की यह कब और कहां किया गया। केसीएन के मुताबिक ‘यह पूरी तरह से विश्वसनीय और पुष्ट खबर है। इस परीक्षण से पानी के अंदर से हमला करने की कोरियाई शैली की प्रणाली विकसित की गई है। इस मिसाइल में सभी जरूरी तकनीकी आवश्यकताओं को पूरा किया गया है।

अमेरीका सैन्य अभ्यास रोके तो हम प्रक्षेपण रोकेंगे

उत्तर कोरिया ने कहा है कि अगर अमेरीका दक्षिण कोरिया में अपने वार्षिक सैन्य अभ्यास को बंद करेगा तो ही वह अपने परमाणु परीक्षणों पर रोक लगाएगा। उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री सु यांग ने कहा कि उनका देश अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों से नहीं घबराएगा। उन्होंने कहा कि अगर अमेरीका दक्षिण कोरिया में अपने वार्षिक सैन्य अभ्यास को बंद करेगा उसके बाद ही हम अपने परमाणु परीक्षणों पर रोक लगाएंगें।

=>
LIVE TV