इस साल नवरात्रि के 6 दिन बनेंगे शुभ योग, इस तरह करें पूजा-पाठ

आजकल पितृपक्ष चल रहा है। यह करीब 15 दिन तक होता है।  पितृपक्ष खत्म होने के बाद नवरात्रि आरम्भ हो जाएगी। इस नवरात्रि को शारदीय नवरात्रि कहा जाता है। इस बार की नवरात्रि 29 सितंबर से शुरू होगी। रविवार के दिन आश्विन माह की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को कलश स्थापना की जाएगी। कलश स्थापना के साथ ही नौ दिनों तक देवी दुर्गा की उपासना और पूजा पाठ पूरे विधि विधान के साथ किया जाएगा। 7 अक्टूबर को महानवमी और 8 अक्टूबर को दशहरा मनाया जाएगा। इस साल नवरात्रि को विशेष योग बनेंगे। जिसके कारण नवरात्रि की पूजा में काफी शुभ और फलदायी होगी।

नवरात्रि

किस दिन कौन सा योग
– 29 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि पर कलश स्थापना
– 30 सितंबर को अमृत सिद्धि योग
– 1 अक्टूबर को रवि योग
– 2 अक्टूबर को अमृत और  सिद्धि योग
– 3 अक्टूबर को सर्वार्थ सिद्धि
– 4 अक्टूबर को रवि योग
– 5 अक्टूबर को रवि योग
– 6 अक्टूबर को सर्वसिद्धि योग रहेगा।

नवरात्रि के 9 दिन और 9 देवियां
पहले दिन- शैलपुत्री
दूसरे दिन- ब्रह्मचारिणी
तीसरे दिन- चंद्रघंटा
चौथे दिन- कुष्मांडा
पांचवें दिन- स्कंदमाता
छठे दिन- कात्यानी
सातवें दिन- कालरात्रि
आठवें दिन- महागौरी
नवें दिन- सिद्धिदात्री

बड़ी खबर: फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, घर से निकलने से पहले जरुर पढ़ें ये खबर

दशहरे का शुभ संयोग
नवमी के अगले दिन दशहरा का त्योहार है। 7 अक्टूबर 2019 को महानवमी दोपहर 12.38 तक रहेगी। इसके दशमी यानी दशहरा होगा। 8 अक्टूबर को विजयदशमी रवि योग में दोपहर 2.51 तक रहेगी। यह बहुत ही शुभ मानी गई है।

दुर्गा पूजा
अष्टमी तिथि – रविवार, 6 अक्टूबर 2019
अष्टमी तिथि प्रारंभ – 5 अक्टूबर 2019 से 09:50 बजे
अष्टमी तिथि समाप्त – 6 अक्टूबर 2019 10:54 बजे तक

=>
LIVE TV