नगर निगम का विशेष सदन चढ़ता दिखा हंगामे की भेंट, पार्षद ने लगाए मेयर पर आरोप

कोरोना वायरस संक्रमण काल में बुलाया गया नगर निगम का विशेष सदन हंगामे की भेंट चढ़ता दिखा। सूरसदन में हो रहे विशेष सदन की शुरुआत में ही पार्षद ने सफाई व्यवस्था पर सवाल उठाकर की। इसके बाद एक दूसरे पार्षद ने मेयर को ही सीधे कटघरे में खड़ा कर दिया। पार्षद ने आरोप लगाया कि मेयर नवीन जैन ने नगरायुक्त् निखिल टीकाराम को दवाब में लेने के लिए सदन बुलाया है। 

बुधवार को सूरसदन प्रेक्षागृह में नगर निगम का विशेष सदन बुलाया गया था। मेयर नवीन जैन एवं नगरायुक्त निखिल टीकाराम मंचासीन थे। विशेष सदन सफाई व्यवस्था को लेकर शुरू हुआ। पार्षद रवि माथुर ने सफाई व्यवस्था पर सवाल उठाए। डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन तरीके से कार्य करने पर जोर दिया। इसके बाद चार बार के पार्षद शोभाराम राठौर ने निगम के सदन में महापौर पर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि महापौर ने नगरायुक्त को दवाब में लेने के लिए सदन बुलाया है। इसपर महापौर ने शोभाराम राठौर को कार्रवाई की चेतावनी दी। हंगामे को देखते हुए निगम का टास्क फोर्स एवं पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। निगम के सौ वार्ड में डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन की व्यवस्था पटरी से उतर गई है। न तो ठीक से झाड़ू लग रही है और न ही कूड़े का उठान हो रहा है। निगम कार्यालय में हर दिन सौ से अधिक शिकायतें मिल रही हैं। शिकायतों का निस्तारण भी ठीक से नहीं हो रहा है। दो सप्ताह पूर्व पार्षद रवि माथुर सहित अन्य ने सफाई को लेकर विशेष सदन बुलाने की मांग की थी। मेयर नवीन जैन ने बताया कि सूरसदन में बिना मास्क के किसी को प्रवेश नहीं दिया गया। सेनिटाइजेशन के बाद ही प्रवेश मिला।  

=>
LIVE TV