ध्यान दें: कब्रिस्तान में खेलने व शोर मचाने वाले गुनहगार है!!

एजेंसी/Darul-Uloom-Deoband_570cb589d2628देवबंद : दारुल उलूम द्वारा कब्रिस्तान में खेलने व शोर मचाने को लेकर फतवा जारी किया गया है। मुफ्ती ए कराम ने अपने हालिया जारी फतवे में कहा है कि कब्रिस्तान को खेलगाह बनाना व वहां अभद्रता व अनैतिक काम करना जायज नहीं है। कब्रिस्तान के चारों बाउंड्री वॉल बनाकर अराजक तत्वों के वहां आने-जाने पर पाबंदी लगाए।

सांपला गांव के कुछ लोगों ने मुफ्ती ए कराम से पूछा था कि गांव के कुछ लोग कब्रिस्तान को कबड्डी व कुश्ती का अखाड़ा बनाकर कब्रों की बेइज्जती कर रहे है। जब वहां प्रतियोगिता चलती है, तो माइक का भी इस्तेमाल किया जाता है। कभ्रों का ख्याल किए बिना लोग वहां बाइक भी चलाते है।

वहां शोर-शराब व बीड़ी-सिगरेट भी पीते है, यह कहां तक सही है। दारुल उलूम के इफ्ता विभाग की मुफ्तियों की बेंच में शामिल मुफ्ती-ए-आजम मुफ्ती हबीबुर्रहमान, मुफ्ती वकार अहमद समेत अन्य मुफ्ती-ए-कराम ने कहा कि कब्रिस्तान में जो भी ऐसा4 काम करते है, वो गुनहगार है। फतवा में कहा गया है कि गुनहगारों को कब्रिस्तान की चारदीवारी करानी होगी और उसे बेइज्जती से बचानी होगी।

=>
LIVE TV