दो साधुओं की चाय पीने के बाद रहस्यमय मौत-मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस

उत्तर प्रदेश में साधुओं की हत्या का मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है । एक बार फिर मथुरा जिले के गोवर्धन इलाके में शनिवार को दो साधुओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। दोनों साधु गोवर्धन मार्ग पर मौजूद गिरिराज बगीचे के आश्रम में रहते थे। आश्रम में रामायण का पाठ करते थे। दोनों साधुओं ने अपने एक और साथी के साथ सुबह की चाय पी थी। जिसके बाद तीनों के मुंह से झाग निकलता देख, लोगो ने उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। जबकि इसमें एक रामबाबू नाम के साधु की हालत गंभीर बनी हुई है। मृत साधुओं का नाम गोपाल गोपाल दास श्यामसुंदर दास बताया जा रहा है।

शनिवार सुबह रामायण का पाठ करने के बाद तीनों साधु चाय पीने गए थे । जिसके बाद तीनों की तबियत बिगड़ती देख, उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। इसके बाद गोपाल दास और श्याम सुंदर दास को चिकित्सकों ने मृतक घोषित कर दिया। रामबाबू दास की हालत गंभीर होने पर उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोपाल दास के भाई टीकम का आरोप है कि साधुओं को जहर खिलाकर हत्या की गई है। टीकम ने कहा कि जब वह आश्रम में पहुंचे तो जहरीली दवाइयों की बदबू आ रही थी

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि साधुओं को साजिश से जहर देकर मार दिया गया है।

=>
LIVE TV