दागदार ताज! जिम्मेदार विभाग ही उड़ा रहे नियमों की धज्जियां, जानें पूरा मामला

REPORT- NARENDRA TYAGI

आगरा:- सफाई के नाम पर ताजमहल को दागदार किया जा रहा है। जिम्मेदार विभाग ही नियमों की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं। नगर निगम द्वारा प्रतिबंधित डीजल जनरेटर से ताजमहल के साफ सफाई कराई जा रही है।ताजमहल की सड़कों को साफ करने के लिए डीज़ल पंप का धड़ल्ले से इस्तेमाल किया जा रहा है।

ताजमहल की सड़कों को चमकाने के लिए जिन डीजल पंपों का प्रयोग किया जा रहा है उन से निकलता धुआं ताजमहल की सुंदरता को दागदार कर रहा है। डीजल पंप से निकलता पानी सड़कों को तो साफ कर रहा है लेकिन इससे निकलने वाला धुआं ताजमहल की सुंदरता को बदसूरत बना रहा है।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार जिस ताजमहल की सुंदरता को बरकरार रखने के लिए ताजनगरी से प्रदूषण फैलाने वाली इकाइयों को टीटीजेड जोन से बाहर शिफ्ट कर दिया गया था । जिम्मेदार विभागीय सर्वोच्च न्यायालय के उस आदेश का मजाक उड़ाते नजर आ रहे हैं।

एडीजी ने किया थाने का निरीक्षण, स्वच्छ वर्दी के लिए दिया पुरस्कार

अब सवाल यह उठता है कि जब जिम्मेदार विभाग ही ताजमहल सुंदरता और संरक्षण के लिए बनाये गए कानून से खिलवाड़ करेंगे तो आम लोगों से क्या उम्मीद की जाए। यह सुप्रीम कोर्ट का ही आदेश है कि ताजमहल प्रतिबंधित क्षेत्र में किसी भी प्रकार की डीजल चलित मशीनरी का उपयोग नहीं किया जाए लेकिन बावजूद इसके जिम्मेदार विभाग जमकर इन आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

=>
LIVE TV